BEST 'Go Green' initiative to increase electric and CNG buses

    मुंबई. बेस्ट (BEST) ने ‘गो ग्रीन’ (Go Green) उपक्रम के तहत अपने बिजली ग्राहकों को एसएमएस (SMS) के तहत ई-बिजली बिल प्रणाली की शुरुआत कर दिया है। इस आसान प्रणाली का उपयोग किए जाने से ग्राहकों को बिजली बिलों में छूट मिलने के साथ पर्यावरण का सरंक्षण भी होगा। राज्य के पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे (Environment Minister Aditya Thackeray) की उपस्थिति में कुलाबा (Colaba) स्थित मुख्यालय में बेस्ट की ई बिजली बिल प्रणाली का उद्घाटन किया गया।

     बेस्ट की इस पहल की प्रशंसा करते हुए पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे ने कहा कि यदि सभी ग्राहकों ने इसका उपयोग किया तो सालाना लगभग 2 हजार पेड़ कटने से बचेंगे। बेस्ट के पास लगभग 10.50 लाख बिजली ग्राहक हैं। इस कस्टमर फ्रेंडली योजना का 1.25 प्रतिशत लाभ ग्राहकों को होगा। बेस्ट के जीएम लोकश चन्द्र ने  ई बिजली बिल के अलावा बेस्ट बस यात्रियों के लिए भी पर्यावरण के अनुरूप सेवा उपलब्ध  कराने को लेकर शुरू योजनाओं की जानकारी दी।

    बेस्ट के बेड़े में इलेक्ट्रिक बसें

    बेस्ट के जीएम लोकेश चंद्र ने बताया कि मुंबई के नागरिकों  को आरामदायक और प्रदुषण मुक्त यात्रा के लिए इलेक्ट्रिक और सीएनजी बसें चलाने पर जोर दिया जा रहा है। बेस्ट के बेड़े में 207 इलेक्ट्रिक बसें हैं जल्द ही 140 और बसें शामिल होंगी। इस तरह बेस्ट के बेड़े में 579 इलेक्ट्रिक और सीएनजी बसें होंगी। इलेक्ट्रिक और सीएनजी बसों के बढ़ने से डीजल का खर्च कम होने के साथ बेस्ट का घाटा भी कम होगा।

    बेस्ट बसों की अचूक जानकारी

    जीएम लोकेश चंद्र के अनुसार, बेस्ट बसों की सर्विस बेहतर बनाने के प्रयास जारी हैं। 100 बस स्टॉप पर डिजिटल डिस्प्ले लगाया गया है।इससे कौनसी बस कहां पर है और कितनी देर में पहुंचेगी इसकी अचूक जानकारी यात्रियों को होगी। आने वाले दिनों में 400 और बस स्टॉप पर डिजिटल डिस्प्ले बोर्ड लग जाएगा। जीएम लोकेश चंद्र ने बताया की बेस्ट ने यात्रियों के लिए स्मार्ट कार्ड शुरू किए जाने की योजना बनाई है। इससे यात्रियों को आसानी होगी।