बीजेपी का आघाड़ी सरकार पर हल्लाबोल

  • महिला अत्याचार के खिलाफ राज्यव्यापी आंदोलन
  • शिवाजी पार्क से चैत्य भूमि तक मोर्चा

मुंबई. भाजपा ने उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली राज्य की महाविकास आघाड़ी सरकार के खिलाफ आंदोलन तेज कर दिया है. राज्य में बढ़ रहे महिला अत्याचारों को लेकर सोमवार को बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल के नेतृत्व में राज्य के सभी जिलों में आंदोलन किया गया. मुंबई में शिवाजी पार्क से चैत्यभूमि तक रैली निकाली गई. जिसमें पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने हिस्सा लिया.   मुंबई में शिवाजी पार्क दादर चौपाटी से चैत्यभूमि तक निकले मोर्चा का नेतृत्व विधान परिषद में विपक्ष के नेता प्रवीण दरेकर ने किया. उन्होंने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि जब तक महिलाओं के खिलाफ अत्याचार नहीं रुकेगा तब तक भाजपा चुप नहीं बैठेगी.

राज्य की महाविकास आघाड़ी सरकार विफल  

चैत्यभूमि के पास सभा को संबोधित करती हुई पार्टी की प्रदेश उपाध्यक्ष चित्रा वाघ ने कहा कि राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो की रिपोर्ट के मुताबिक महाराष्ट्र में सबसे अधिक 47 बलात्कार और हत्या की घटनाएं हुईं हैं. इसके लिए उन्होंने राज्य की महाविकास आघाड़ी सरकार को विफल बताते हुए निंदा की. फरवरी महीने में महाराष्ट्र में बलात्कार की सात घटनाएं हुईं. जबकि अगस्त में नाबालिग लड़कियों से बलात्कार की 11 घटनाएं हुईं. सभा के दौरान वक्ताओं ने महाराष्ट्र में महिलाओं के खिलाफ अन्याय की घटनाओं पर ध्यान आकर्षित किया. जिसमें वसई में एक तेज तर्रार लड़की का बलात्कार, मुंबई में तेज रफ्तार कार में एक नाबालिग लड़की का सामूहिक बलात्कार और आरे कॉलोनी में 4 साल की बच्ची का बलात्कार शामिल है. कोविड सेंटर और क्वारंटाइन सेंटर में भी महिलाओं पर अत्याचार की घटनाएं  हुईं हैं. इस संदर्भ में भाजपा में कई बार एसओपी बनाने की मांग की है. विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर मांग की, लेकिन किसी तरह की कार्रवाई नहीं हुई है. बीजेपी के मोर्चे में सांसद गोपाल शेट्टी, पूर्व मंत्री और विधायक आशीष शेलार, पराग अलवनी, कैप्टन तमिल सेल्वन, सुनील राणे, मनीषा चौधरी, विद्या ठाकुर सहित बड़ी संख्या में पार्टी के पदाधिकारी और कार्यकर्ता शामिल हुए.