मुंबई में रक्त की किल्लत

  • मनपा ब्लड बैंकों में मात्र 100 यूनिट उपलब्ध

मुंबई. मुंबई में एक बार फिर रक्त की किल्लत होने लगी है. यदि जल्द से जल्द लोग रक्तदान के लिए आगे नहीं आएंगे तो यह संकट और भी गहरा जाएगा. इस संकट से उबरने के लिए अब नवरात्रि मंडलों से अपील की जा रही है कि वे अपने लोगों को रक्तदान करने के लिए कहें.

मनपा के सायन, नायर, केईएम, कूपर अस्पताल और मेडिकल कॉलेजों के ब्लड बैंकों में आमतौर पर 300 यूनिट रक्त उपलब्ध रहते हैं, लेकिन वर्तमान में मात्र 100 यूनिट रक्त ही उपलब्ध है. मनपा के राजावाड़ी और सरकारी अस्पताल सेंट जॉर्ज और कामा अस्पताल के ब्लड बैंक में तो 50 यूनिट ही उपलब्ध है. 

ब्लड बैंक का संचालन करने वाले स्टेट ब्लड ट्रांसफ्यूजन कॉउंसिल (एसबीटीसी) के निदेशक डॉ. अरुण थोराट ने कहा कि कोरोना के कारण ब्लड कलेक्शन ड्राइव में 50 फीसदी की कमी हुई है. बीमारी से संक्रमित होने के डर से लोग बाहर नहीं निकल रहे हैं. ऐसे में समस्या होना लाजमी है, लेकिन हमने सभी नवरात्रि मंडलोंं से अपील की है कि जिस तरह गणपति के समय मंडलों के आह्वान के बाद लोग रक्तदान के लिए आगे आए थे, उसी प्रकार इस संकट की घड़ी में लोग आगे आएं. एक सरकारी ब्लड बैंक में कार्यरत अधिकारी ने बताया कि हमारे पास मात्र एक सप्ताह का स्टॉक उपलब्ध है.यदि जल्द ही रक्तदान के लिए लोग आगे नहीं आते हैं तो थैलेसीमिया, हीमोफीलिया और अन्य रोगियों को काफी परेशानी होगी.