छठ पूजा के लिए बीएमसी जारी करेगी गाइड लाइन

  • बीजेपी ने लिखा कमिश्नर को पत्र

मुंबई. दीपावली  के ठीक बाद 20 व 21 नवंबर को मुंबई में मनाए जाने वाली छठ पूजा कार्यक्रम को लेकर बने संभ्रम को दूर करने के लिए बीएमसी गाइड लाइन जारी करेगी. मुंबई भारतीय जनता पार्टी की तरफ से गुुरुवार को एक प्रतिनिधि मंडल बीएमसी आयुक्त सुरेश काकानी से मुलाकात कर उन्हें पत्र सौंपा. 

मुंबई में बड़े पैमाने पर उत्तर भारतीय रहते हैं जो समुद्र और तालाब के किनारे छठ पूजा मनाते हैं.  मुंबई शहर में कई वर्षों से सामूहिक छठ पूजा का आयोजन किया जाता है. बीएमसी छठ पूजा कार्यक्रम के लिए हर वर्ष अनुमति देती है लेकिन इस वर्ष कोविड के कारण बीएमसी अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया है. राज्य सरकार शादी विवाह और समारोह के लिए एक साथ 100 लोगों के जमा होने के अनुमति दी है.

इन लोगों को मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य किया गया है. बीजेपी प्रतिनिधि मंडल ने अतिरिक्त आयुक्त सुरेश काकानी से मांग किया कि पहले जैसा छठ पूजा कार्यक्रम मनाने के लिए अनुमति दी जानी चाहिए. जिस तरह गणेशोत्सव में छोटे हौद, तालाब और समुद्री किनारों पर गणपति विसर्जन की छूट दी गई थी उसी तरह छोटी जगहों पर लोगों को अनुमति दी जानी चाहिए.

बीजेपी प्रवक्ता भालचंद्र शिरसाट ने बताया कि बीएमसी छठ पूजा के लिए गाइड लाइन जारी करने की मांग की है. सुरेश काकानी ने कहा है वे जल्द ही  गाइड लाइन तैयार कर सभी विभागीय अधिकारियों के पास भेजेंगे  जिससे लोग त्योहार मना सकें. विधायक अतुल भातखलकर ने भी मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिख कर छठ पूजा मानाने के लिए अनुमति प्रदान करने की मांग की है. प्रतिनिधि मंडल में विधायक मिहिर कोटेचा, उत्तर भारतीय मोर्चा महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष संजय पांडे, बीएमसी में पार्टी नेता विनोद मिश्रा, भालचंद शिरसाट उपस्थित थे.