बीएमसी को जल्द मिलेगा  रेमडेसिवीर का 8000 इंजेक्शन

मुंबई. मुंबई में गंभीर रूप से पीड़ित कोरोना मरीजों के लिए कारगर रेमडेसिवीर इंजेक्शन की कमी जल्द दूर होने वाली है. गंभीर कोरोना मरीजों पर इसका बड़े पैमाने पर इस्तेमाल किया जा रहा है. जिस कारण से बीएमसी के अस्पतालों में भी इसकी मांग बढ़ गई है. रेमडेसिवीर इंजेक्शन की कमी को दूर करने के लिए बीएमसी ने पहले ही इसे खरीदने के निविदा जारी की थी. 

इसमें से 1000 इंजेक्शन बीएमसी को मिल चुके हैं. जल्द ही 8000 इंजेक्शन और उपलब्ध होने की जानकारी अतिरिक्त आयुक्त सुरेश काकानी ने दी. काकानी ने बताया कि बीएमसी के अस्पतालों में दवाओं की कोई कमी नहीं है. आगे भी दवाओं की कमी नहीं होने दी जाएगी. 

इंजेक्शन की मांग भी बढ़ रही

सितंबर महीने में कोरोना मरीजों की संख्या भी तेजी से बढ़ी है. रोजाना 2000 से 2500 के बीच कोरोना मरीज मिल रहे हैं. जांच का दायरा बढ़ाने से कोरोना के एक्टिव मरीजों में भी वृद्धि हो रही है.  अस्पतालों में 1800 से अधिक गंभीर मरीज हैं जिन्हें रेमडेसिवीर इंजेक्शन की सबसे अधिक आवश्यकता पड़ रही है. इसलिए इंजेक्शन की मांग भी बढ़ रही है. 

 इंजेक्शन खरीदने की प्रक्रिया जारी रहेगी

रेमडेसिवीर इंजेक्शन का उपयोग मई महीने से किया जा रहा है. बीएमसी ने बड़ी मात्रा में इंजेक्शन की खरीद की थी.लेकिन अब बीएमसी के पास भी इंजेक्शन की कमी महसूस होने लगी है.  बीएमसी अब इंजेक्शन भंडारण क्षमता बढ़ाने में लगी है. बीएमसी ने एक एजेंसी से  इंजेक्शन खरीदने का आर्डर दिया था. सोमवार को उसे 1000 इंजेक्शन मिल चुके हैं. जिससे जरुरत के हिसाब से बीएमसी अस्पतालों में वितरित कर दिया गया है. जल्द ही 8000 हजार इंजेक्शन और उपलब्ध हो जाएंगे. काकानी ने बताया कि रेमडेसिवीर इंजेक्शन की मांग आगे भी रहेगी इसलिए इंजेक्शन खरीदने की प्रक्रिया जारी रहेगी. उन्होंने कहा कि अस्पतालों में इंजेक्शन की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी.