file photo
file photo

  • मौत मस्ती के लिए बैंक खाते से निकाले पैसे
  • साइबर पुलिस ने की छात्र पर कार्रवाई

मुंबई. साइबर पुलिस ने एक सीए की पढ़ाई करने वाले नाबालिग छात्र को कॉफी शॉप कंपनी के सर्वर को हैक कर उसके बैंक अकाउंट से पैसे उड़ाने के मामले में पकड़ा है. वह दोस्तों के साथ मौज-मस्ती के लिए कॉफी शॉप के साथ धोखाधड़ी की. 

उसने यू-ट्यूब पर साइबर क्राइम का वीडियो देखकर बैंक अकाउंट का सर्वर हैक कर दूसरों के बैंक अकाउंट से पैसे उड़ाने का गुर सीखा था. बाल न्यायालय ने नाबालिग को कुछ शर्तों के आधार पर जमानत दे दी है.

यू-ट्यूब पर वीडियो देख कर सीखा धोखाधड़ी

कॉफी शॉप कंपनी के मालिक अंकित सिंघवी ने बीकेसी स्थित साइबर पुलिस स्टेशन में शिकायत किया था कि उनके कॉफी शॉप के बैंक खाते से लॉग इन किया था और उनकी कॉफीशाप के गिफ्ट कार्ड में जमा किए गए पैसे निकाल लिया है. साइबर पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच शुरू की. पुलिस की जांच में सामने आया कि कॉफी शाप के बैंक अकाउंट का सर्वर हैक कर पैसा निकाला गया है. पुलिस ने तकनीकी जांच में उस कंप्यूटर को ट्रेस किया, जिससे कॉफीशाप के बैंक अकाउंट का सर्वर हैक किया गया था.

बाल न्यायालय से छात्र को मिली जमानत

पुलिस ने इस मामले में 17 वर्षीय किशोर को पकड़ा. उससे गहन पूछताछ में खुलासा हुआ कि वह यू-ट्यूब पर साइबर क्राइम का वीडियो देख कर दूसरों के बैंक अकाउंट को हैक करने का खुराफात सीखा था. पुलिस ने उसे डोंगरी के बाल सुधार गृह में भेज दिया. बाल न्यायालय ने सीए की पढ़ाई करने वाले छात्र के भविष्य को देखते हुए कुछ शर्तों पर 15 हजार रुपए के निजी मुचलके पर रिहा किया.

अभिभावकों को सलाह

साइबर पुलिस ने बच्चों के अभिभावकों को कोरोना महामारी को लेकर लगे लॉकडाउन में पढ़ाई ऑनलाइन कर रहे छात्रों को मोबाइल और लैपटॉप देते समय उनकी गतिविधियों पर नजर रखने की सलाह दी है.