मेट्रो के लिए चीनी एस्केलेटर पर लगे बैन, भाजयुमो का प्रदर्शन

मुंबई. लद्दाख सीमा पर चीन और भारतीय सैनिकों के बीच हुए हिंसक हमले में 20 भारतीय जवानों के शहीद होने की घटना से पूरे भारत में तीव्र विरोध हो रहा है. भारत में चीन के सभी प्रोडक्ट का बहिष्कार किये जाने की आवाज बुलंद की जा रही है. भारत की ओर से चीन की आर्थिक कमर तोड़ने के लिए एमएमआरडीए द्वारा मोनो रेल के अंतिम चरण का ठेका जो चीन को दिया गया था उसे रद्द कर दिया गया. शुक्रवार को भाजपा युवा मोर्चा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य शुभ्रांशु दीक्षित ने एमएमआरडीए कार्यालय के सामने चीन के बॉयकॉट का नारा लगाते हुए मेट्रो स्टेशनों पर लगाए जा रहे एस्केलेटर का ठेका रद्द किए जाने की मांग की. 

इस अवसर पर दीक्षित के साथ आये कार्यकर्ताओं ने निषेध व्यक्त करने वाले पोस्टर हाथों में लेकर शांतिपूर्ण प्रदर्शन किया. मुंबई में मेट्रो का कार्य तेजी से किया जा रहा है. ऐसे में मेट्रो स्टेशनोंं पर लगाए जाने वाले एस्केलेटर बड़ा ठेका चीन की कंपनी को दिया गया है. उस ठेके को रद्द कर भारत देश की स्वदेशी कंपनी को यह ठेका देने की मांग शुभ्रांशु दीक्षित ने की है.