गणपत पाटिल नगर में उपलब्ध हो नागरी सुविधा

  • पालक मंत्री आदित्य ठाकरे से गुहार

मुंबई. पश्चिम उपनगर के दहिसर में बसी गणपत पाटिल नगर झोपड़पट्टी में नागरी सुविधा कराने की गुहार राज्य के पर्यटन और मुंबई उपनगर के पालक मंत्री आदित्य ठाकरे से की गयी है. 

मुंबई बैंक के निदेशक अभिषेक घोसालाकर और शिवसेना नगरसेविका तेजस्वी घोसालाकर ने पालक मंत्री आदित्य ठाकरे से मुलाकात कर दहिसर क्षेत्र के विकास को लेकर उन्हें एक ज्ञापन सौंपा. 

पालक मंत्री को दिया ज्ञापन

पालक मंत्री को दिए ज्ञापन में कहा गया है कि दहिसर की गणपत पाटिल नगर झोपड़ पट्टी 25 साल पहले बसी है. जहां पर लगभग 50 हजार से अधिक लोग रहते हैं. पूरा इलाका सीआर जेड, एमआर जेड क्षेत्र में आता है. हालांकि उच्च न्यायालय  के आदेशानुसार मुंबई मनपा की तरफ से वर्ष 2000 के पहले के झोपड़ों को पानी का कनेक्शन और टाटा पॉवर के माध्यम से बिजली का कनेक्शन दिया जा रहा है. इलाके में नागरी सुविधाओं का अभाव है. वहां रहने वालों को आने जाने के लिए पक्का रास्ता नहीं है.बारिश के पानी की निकासी के लिए गटर की सुविधा नहीं है. जिसकी वजह से बारिश के मौसम में पानी भर जाता है. शौचालयों की भी पर्याप्त व्यवस्था नहीं है. पालक मंत्री से नागरी सुविधा उपलब्ध कराने में सहयोग का अनुरोध किया गया है. 

 कचरे से बिजली का उत्पादन  

अभिषेक घोसालाकर ने पालक मंत्री ठाकरे को बताया कि दहिसर पश्चिम के कांदरपाड़ा स्मशानभूमि स्थित सीटीएस क्रमांक 347 में सूखा कचरा के वर्गीकरण की परियोजना शुरु की गयी है. उपलब्ध अतिरिक्त जगह में गीले कचरे से विद्युत उत्पादन करने का प्रस्ताव मनपा को दिया गया है. इसके लिए प्रारूप तैयार करने और निधि की जरुरत है. इस तरह के दहिसर के अन्य विकास योजनाओं को गति देने की मांग पालक मंत्री से की गयी है.