bus

मुंबई. कोरोना महामारी में लॉकडाउन के चलते एसटी का भारी नुकसान हुआ है.इस नुकसान को कम करने व आय के स्रोत बढ़ाने के लिए कई उपाय किए जा रहे हैं.ऐसी जानकारी परिवहन मंत्री अनिल परब ने दी.शुक्रवार को मुंबई में एसटी महामंडल के अधिकारियों की बैठक में एसटी बसों को चरणबद्ध तरीके से डीजल से गैस में बदलने का निर्णय लिया गया.

एलएनजी से चलेंगी 1200 बसें

एसटी महामंडल के पास 18,500 बसें हैं.आय का 34 प्रतिशत खर्च ईंधन पर ही हो जाता है. खर्च बचाने के लिए पहले चरण में 1200 बसों को एलएनजी में बदला जाएगा. इसके अलावा एसटी ने माल यातायात सेवा शुरू की है,जिससे एक माह में 72 लाख से ज्यादा आय हुई है.दिसंबर 2021 तक माल यातायात से 250 करोड़ का राजस्व जमा करने का उद्देश्य है. बैठक में कोल्हापूर से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से परिवहन  राज्य मंत्री सतेज पाटील,एसटी महामंडल के उपाध्यक्ष शेखर चन्ने व वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे.एसटी के वर्कशॉप में निजी बसों को बॉडी बनाकर भी अतिरिक्त आय हासिल किए जाने की जानकारी परिवहन मंत्री ने दी.