नवरात्रोत्सव पर भी कोरोना का साया, नहीं होंगे बड़े आयोजन

  • मुख्यमंत्री ने नवरात्रोत्सव, दुर्गा पूजा, दशहरा साधारण ढंग से मनाने की अपील

मुंबई. मुंबई सहित पूरे महाराष्ट्र में गणेशोत्सव की ही तरह नवरात्रोत्सव भी बहुत धूमधाम से मनाया जाता है. गरबा डांस एवं डांडिया के बड़े-बड़े कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं, लेकिन कोरोना की वजह से इस साल अन्य उत्सवों एवं त्यौहारों की ही तरह नवरात्रोत्सव भी साधारण ढंग से मनाया जाएगा. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने नवरात्रोत्सव, दुर्गा पूजा, दशहरा का त्यौहार साधारण ढंग से मनाने की अपील लोगों से की है. इस संदर्भ में जल्द ही गाइड लाइन जारी की जाएगी.

वैश्विक महामारी कोरोना की वजह से पिछले 6  महीनों से सभी उत्सव एवं त्यौहार साधारण तरीके से मनाए जा रहे हैं. महाराष्ट्र में बढ़ चढ़ कर मनाया जाने वाला गणेशोत्सव कब शुरू हुआ और कब खत्म लोगों के समझ में ही नहीं आया. अब 17 से 25 अक्टूबर के बीच शारदीय नवरात्र, दुर्गा पूजा, विजयदशमी (दशहरा) का त्यौहार है. इसी दौरान मुंबई शहर एवं उपनगरों में रामलीला का भी आयोजन किया जाता है. लेकिन मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मुंबई सहित पूरे राज्य में कोरोना की परिस्थिति को देखते हुए त्यौहार सादगी से मनाने की अपील की है. उन्होंने कहा है कि गणेशोत्सव में जिस तरह का सहयोग लोगों ने किया है, वही अपेक्षा नवरात्रोत्सव सहित अन्य त्यौहारों में भी है, जिससे कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोका जा सकेगा. उन्होंने कहा है कि इस संदर्भ में जल्द ही गाइड लाइन जारी की जाएगी.

कोरोना का असर इस साल शिवसेना के दशहरा रैली पर पड़ने वाला है. शिवसेना के स्थापना काल से ही दादर के शिवाजी पार्क पर रैली होती रही है. जिसे पहले शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे एवं बाद में शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे संबोधित करते रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक शिवसेना इस बार वर्चुअल दशहरा रैली पर विचार कर रही है.