File Photo
File Photo

    मुंबई. मुंबई (Mumbai) में कोरोना वायरस (Corona Virus) एक बार फिर प्रबल होता दिखाई दे रहा है। वैसे तो वायरस ने मुंबई के सभी वार्ड में अपनी उपस्थिति दर्ज करा चुका है, लेकिन अब कुछ इलाकों में तो मानों कोरोना ने अपना डेरा ही जमा लिया है। मुंबई के अंधेरी (Andheri), मुलुंड (Mulund), कांदिवली (Kandivali), भांडुप (Bhandup) और बोरीवली (Borivali) में कोरोना ने इस कदर अपने पैर जमा लिए हैं कि रोजाना बड़ी संख्या में मरीज मिल रहे हैं।

    मनपा स्वास्थ्य विभाग से मिले आंकड़ों का आंकलन करें तो 3 मार्च से 10 मार्च के  बीच कुल 24 वार्डों में 7,744 मरीज मिले हैं, जिसमें केवल 6 वार्ड में ही 2274 मरीज मिले हैं। मनपा की कार्यकारी स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मंगला गोमारे ने कहा कि हाल ही में वार्ड अधिकारियों और स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ हमारी बैठक हुई। इसमें होटलों, पब, मॉल्स में इंस्पेक्शन बढ़ाने, भीड़ वाले इलाकों में निरीक्षण कर यह देखें की कहीं कोविड नियमों का उल्लंघन तो नहीं हो रहा और यदि हो रहा है तो सख्त कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं। लोग अपनी नैतिक जिम्मेदारियों को समझे और भीड़ इक्कठा न करें, कोरोना अभी गया नहीं है।

    कोरोना के टॉप हॉटस्पॉट

    मुंबई में पिछले सात दिनों में इन इलाकों में इतने मामले बढ़े हैं कि यह कोरोना के टॉप हॉटस्पॉट बन गए हैं। अंधेरी वेस्ट में 740, मुलुंड में 616, अंधेरी ईस्ट में 487, कांदिवली में 482, बोरीवली में 477, भांडुप में 446, माटुंगा में 393, घाटकोपर में 383, मालाड में 377, बांद्रा में 347 नए मरीज मिले हैं।

    इतने दिन में डबल हो रहे है मामले

    मुंबई में कोरोना का डबलिंग रेट भी बढ़ रहा है। मुलुंड का डबलिंग रेट 137, अंधेरी वेस्ट का 147, माटुंगा का 159, बांद्रा का 169, चेंबूर ईस्ट का 169, चेंबूर वेस्ट का 177, भांडुप का 178 दिन डबलिंग रेट हो गया है। मुंबई का डबलिंग रेट 205 है।

    होटल, मॉल्स, दुकानों में नियमों का उल्लंघन किया जा रहा है। पूरी कैपेसिटी का 50% लोगों को ही होटलों में बिठाना है, लेकिन वाकई में ऐसा हो रहा है क्या? मनपा को और भी सख्त होने की जरूरत है। वायरस रूप बदल रहा है, लेकिन लोग क्यों लापरवाह हो रहे हैं। वायरस अभी गया नहीं है यदि ऐसा ही रहा तो लोकल स्तर पर लॉकडाउन की नौबत आ सकती है।

    -डॉ. शशांक जोशी, सदस्य, कोविड टास्क फोर्स

    नए केसेस की संख्या में इजाफा का कारण साफ है लोग कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं कर रहे हैं। लोगों का मूवमेंट काफी बढ़ गया है, विभिन्न समारोह हो रहे हैं।

    -विश्वास मोटे, सहायक मनपा आयुक्त, के वेस्ट वार्ड, अंधेरी वेस्ट