आरएसएस के प्रयास से धारावी में कोरोना कंट्रोल, धारावी पैटर्न पर शुरु हुई राजनीति

मुंबई. एशिया की सबसे बड़ी झोपड़पट्टी धारावी में कोरोना कंट्रोल में है.विश्व स्वास्थ्य संगठन  (डब्ल्यूएचओ) धारावी पैटर्न की तारीफ करते हुए इसका श्रेय सरकार को दिया है.जिसको लेकर राजनीति शुरु हो गई है. 

भाजपा के वरिष्ठ नेता पूर्व सांसद किरीट सोमैया ने कहा है कि मरोजों की संख्या शून्य करने को लेकर टेस्टिंग ही नहीं की जा रही है, जब कि बीजेपी सांसद ने कोरोना कंट्रोल करने का श्रेय आरएसएस जैसे स्वयं सेवी संगठनों को दिया है, तो पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे ने  कोरोना को काबू करने में सभी का सहयोग बताया है.

 बीजेपी विधायक नितेश राणे ने ट्वीट कर कहा है कि ‘राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) दूसरे स्वयंसेवी संगठनों ने दिनों रात काम किया.जिसकी वजह से धारावी में कोरोना पर नियंत्रण पाया गया है, यह केवल सरकार का काम नहीं है. विश्व स्वास्थ्य संगठन को इस संदर्भ में जानकारी जुटानी चाहिए.केवल सरकार को श्रेय देना दूसरे संगठनों के साथ अन्याय है.

आदित्य ने कहा- सभी का श्रेय

करोना के खिलाफ संघर्ष को लेकर धारावी का गौरवपूर्ण उल्लेख किए जाने को लेकर  पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे ने विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रति आभार जताया है.उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि धारावी के लिए यह बहुत बड़ी बात है.  राज्य सरकार, मुंबई महापालिका, स्वयंसेवी संगठनों, जनप्रतिनिधियों एवं सबसे अधिक श्रेय धारावी के लोगों का है.

टीम वर्क से मिली सफलता

दक्षिण मध्य मुंबई के शिवसेना सांसद राहुल शेवाले ने धारावी में कोरोना रोकने की सफलता का श्रेय टीम वर्क को दिया है.शेवाले ने कहा कि डब्ल्यूएचओ के निदेशक डॉ.डिग्ड्रॉस ने धारावी की तुलना वियतनाम, कंबोडिया, स्पेन एवं न्यूजीलैंड जैसे देशों से की है.