corona
File Photo

  • इस महीने मिले रिकॉर्ड तोड़ 52,148 मरीज

मुंबई. मुंबई में कोरोना वायरस का संक्रमण इतना ज्यादा फैल चुका है कि जैसे-जैसे समय आगे बढ़ रहा है, मरीजों की संख्या भी उतनी तेजी से बढ़ रही है. खासकर सितंबर में कोरोना का सबसे ज्यादा प्रकोप देखने को मिला है. पिछले 6 महीनों का रिकॉर्ड तोड़ते हुए सितंबर में मरीजों की संख्या 52,148 पर पहुंच गई है. 

मार्च महीने में जब कोरोना का पहला मरीज सामने आया था, तब से लेकर अब तक मुंबई की रंगत ही बदल गई है. फायर ब्रिगेड हो या एंबुलेंस जिसकी आवाज सुनकर मुंबईकर चौंक जाते थे, अब जगह-जगह सायरन बजा कर पास से निकलती एंबुलेंस के सायरन भी अनसुना कर दिया जाता है. मुम्बई में इन 7 महीनों में कोरोना वायरस ने 8,800 लोगों की जान ले ली है. 

25 मार्च को मुंबई में लॉकडाउन घोषित किया गया था. यहां मई में 33,252 मरीज मिले थे, जून में 37,831 जुलाई में 37,743 मरीज मिले थे. अगस्त में मरीजों की संख्या घट कर 30,496 रही. लेकिन अगस्त में हुए अनलॉक का असर सितंबर में दिखाई दिया. अब 27 सितंबर तक मरीजों की संख्या बढ़ कर 52,148 पर पहुंच गई. कोरोना मरीजों की संख्या नियंत्रित करने के लिए तमाम प्रयासों के बावजूद इसके कम होने के बजाय बढ़ता जा रहा है. 

81 प्रतिशत पर जा पहुंचा रिकवरी रेट 

एक समय डबलिंग रेट 93 दिन पर पहुंच गया था, वह घट कर 56 दिन पर आ गया था. इस सप्ताह में यह रेट थोड़ा सुधरकर अब 65 दिन पर आ गया है. रिकवरी रेट भी गिरकर 78 दिन पर आ गया था जो अब बढ़ कर 81 प्रतिशत पर जा पहुंचा है. शनिवार तक मुंबई में कोरोना मरीजों की संख्या 1 लाख 96 हजार 585 हो गई है. अब रोजाना 2000 के ऊपर नये कोरोना के मरीज मिल रहे हैं. कोरोना की रफ्तार ऐसे ही रही तो एक-दो दिन में यह आंकड़ा 2 लाख को पार कर जाएगा. 

महीने की शुरुआत में कितने मरीज

  • 1 मई: 7,625 
  • 1 जून: 40,877
  • 1 जुलाई: 78,708
  • 1 अगस्त: 1,16,451
  • 1 सितंबर: 1,46,945