कोरोना रोके ठाकरे सरकार, मुंबई में बीजेपी का अनोखा आंदोलन

– पार्टी के सांसद, विधायक, नगरसेवक, पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता हुए शामिल

– आर्थिक पैकेज की मांग

मुंबई. मुंबई सहित पूरे महाराष्ट्र में बढ़ रहे कोरोना संकट के बीच राजनीति भी शुरू हो गई है. बीजेपी ने उद्धव ठाकरे  के नेतृत्व वाली महाविकास आघाड़ी सरकार पर कोरोना को नियंत्रित करने में विफल रहने का आरोप लगाते हुए ‘महाराष्ट्र बचाओ’ आंदोलन किया. 

  प्रदेश मुख्यालय में पूर्व मुख्यमंत्री और विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने आंदोलन का नेतृत्व किया.इस अवसर पर मुंबई बीजेपी अध्यक्ष मंगल प्रभात लोढ़ा, पूर्व मंत्री विनोद तावड़े, विधायक प्रसाद लाड, राहुल नार्वेकर, पूर्व विधायक राजपुरोहित सहित अन्य पदाधिकारी मौजूद थे. 

दरेकर ने दहिसर में आंदोलन का नेतृत्व किया

 विधानपरिषद में विपक्ष के नेता प्रवीण दरेकर ने दहिसर में आंदोलन का नेतृत्व किया.दरेकर ने कहा कि संकट के इस दौर में हम राजनीति नहीं करना चाहते, लेकिन जब कोरोना संकट लगातार बढ़ रहा है तो ऐसे समय में चुप रहना भी मुमकिन नहीं है. विधानपरिषद में विपक्ष के नेता दरेकर ने आरोप लगाया कि महाराष्ट्र सरकार ने कोरोना संकट में राज्य की जनता को राहत देने के लिए अभी तक कोई पैकेज भी घोषित नहीं किया.उन्होंने किसानों, कारीगरों के लिए 50 हजार करोड़ रुपये के पैकेज की मांग की.

विलेपार्ले में आंदोलन

 भाजयुमो की अध्यक्ष एवं सांसद पूनम महाजन ने विधायक पराग अलवानी व अन्य पदाधिकारियों के साथ विलेपार्ले में आंदोलन किया.जबकि पूर्व मंत्री पंकजा मुंडे वरली में आंदोलन का हिस्सा बनीं.सांसद गोपाल शेट्टी ने बोरिवली में आंदोलन का नेतृत्व किया.

मनपा फेल साबित हुई

 पूर्व मंत्री एवं विधायक आशीष शेलार ने बांद्रा में आंदोलन का नेतृत्व करते हुए कहा कि मुंबई में लोग कोरोना से मर रहे हैं और सत्ताधारी गायब हैं.80 हजार करोड़ रुपये की एफडी रखने वाली सबसे संपन्न मनपा फेल साबित हुई है.मरीजों को देखने वाला कोई नहीं है.

सभी क्षेत्र में सरकार फेल साबित हुई

  गोरेगांव में पूर्व मंत्री एवं विधायक विद्या जयप्रकाश ठाकुर ने सरकार की नाकामियों को गिनाया. आंदोलन में जयप्रकाश ठाकुर, नगरसेवक दीपक ठाकुर सहित अन्य लोग शामिल थे. प्रदेश बीजेपी सचिव संजय उपाध्याय ने अपने आवास परिसर में सरकार का विरोध किया. उपाध्याय ने ट्वीट कर कहा कि प्रवासी मजदूरों को उनके गांव भेजने का मामला हो या कोरोना मरोजों के इलाज का सभी क्षेत्र में सरकार फेल साबित हुई है.बीजेपी नेता एवं पूर्व दर्जा प्राप्त राज्य मंत्री अमरजीत मिश्र, प्रदेश पदाधिकारी संजय पांडेय, संतोष पांडेय, मुंबई मनपा में पार्टी के नेता विनोद मिश्र सहित अन्य नेताओं ने अलग अलग स्थानों पर सरकार का विरोध जताया.

 कुर्ला के पटेल वाड़ी में आंदोलन का नेतृत्व मुंबई बीजेपी उपाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक राजहंस सिंह ने किया.राजहंस सिंह ने कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था चरमरा गई है.पुलिस जवानों पर हमले हो रहे हैं. मालाड के मालवणी में फायर ब्रिगेड के पास आंदोलन का नेतृत्व मुंबई बीजेपी महासचिव आर यू सिंह ने किया.उन्होंने मुंबई में कोरोना फैलने के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराया.इस आंदोलन में जॉन डेनिस, प्रमोद वैती, शिवपूजन सिंह, सुनील पटेल, मंगेश चौधरी, गुरुदयाल यादव सहित अन्य लोग शामिल थे.