Maharashtra ranks third in foreign investment

– मृतकों की संख्या में पारदर्शिता पर ध्यान दे सरकार

मुंबई. पूर्व मुख्यमंत्री एवं विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा है कि मुंबई सहित पूरे महाराष्ट्र में कोरोना की स्थिति दिनों दिन विस्फोटक होती जा रही है. स्वास्थ्य व्यवस्था पर भारी दबाव पड़ रहा है. कोरोना की वजह से मरने वालों की संख्या में भी पारदर्शिता नहीं है.इन सभी मुद्दों पर  मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को ध्यान देने की जरुरत है.इस संदर्भ में फडणवीस ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है.

फडणवीस ने मुख्यमंत्री ठाकरे को लिखा पत्र

 मुख्यमंत्री ठाकरे को लिखे पत्र में देवेंद्र फडणवीस ने कहा है कि मुंबई सहित महाराष्ट्र में कोरोना की स्थिति दिनों दिन खराब होती जा रही है. 19 जून को महाराष्ट्र में अब तक के सबसे अधिक 3827 मरीज मिले हैं.इसी दिन मुंबई में सबसे अधिक मौत  संख्या 114 रिकॉर्ड की गई . 18 जून तक के आंकड़े को देखें तो राज्य में कुल कोरोना मरीजों की संख्या का 52.18 प्रतिशत हिस्सा अकेले मुंबई का है. मुंबई एवं एमएमआर क्षेत्र को देखा जाय तो यह हिस्सा 73.85 प्रतिशत है. 

मुंबई का मृत्युदर 5.27 प्रतिशत तक पहुंच गई

मुंबई का मृत्युदर 5.27 प्रतिशत तक पहुंच गई है. कोरोना के कुल मरीजों की संख्या के 43.86 प्रतिशत मरीज पिछले 18 दिनों में बढ़े हैं. मुंबई में 36.88 प्रतिशत मरीज इन 18 दिनों में बढ़े हैं. पिछले तीन माह से कोरोना से मरने वालों की संख्या छुपाई जा रही थी.फडणवीस ने मुख्यमंत्री ठाकरे को संबोधित करते हुए कहा है कि आपको जानकारी देने के बाद एक ही दिन राज्य भर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 1328 बढ़ गयी.