corona-test

    मुंबई. कोरोना (Corona) की दूसरी लहर (Second Wave) में मुंबई (Mumbai) के पूर्वी और पश्चिमी उपनगर में सबसे ज्यादा असर देखने को मिल रहा है। मुंबई के दोनों उपनगरों  में कोरोना मरीजों का प्रमाण अधिक है। पूर्व उपनगर के मुलुंड(Mulund) और घाटकोपर (Ghatkopar) में बहुत ज्यादा मरीज मिल रहे हैं तो पश्चिम उपनगर के अंधेरी (Andheri), बांद्रा (Bandra), मलाड (Malad)और कांदिवली (Kandivali) परिसर कोरोना का हॉटस्पाट बना हुआ है।

    मुंबई में पिछले कुछ दिनों से कोरोना मरीजों की संख्या में कई गुना बढ़ोत्तरी हुई है। रोजाना 9 से 11 हजार लोग कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं। हालात इतने विकट हो गए हैं कि मरीजों को बेड भी नहीं मिल रहा है।

    सात इलाकों में सबसे ज्यादा मरीज

    मुंबई के सात वार्ड में ही पिछले तीन दिनों में रोज एक से दो हजार मरीज बढ़े है। मरीजों की बढ़ती संख्या से मनपा के वॉर्ड वार रूम भी अब थक से गए है। फोन करने पर घंटो फोन नहीं उठाया जाता है। फोन उठाया भी गया तो जवाब दिया जाता है कि आपको थोड़ी देर में जानकारी दी जाएगी। शाम हो जाने तक मरीजों को बेड के लिए इंतजार करना पड़ता है, लेकिन कोई जवाब नहीं मिल पाता।

    4 से 6 अप्रैल  के बीच कोरोना मरीजों  की संख्या

    • अंधेरी पश्चिम-2253
    • कांदिवली-2010
    • मालाड-1750
    • गोरेगांव-1605
    • घाटकोपर-1536
    • मुलुंड-1379
    • बांद्रा-1333