sharad pawar

– शरद पवार का हमला 

– सरकार बनाने के लिए राकां से बीजेपी की बात नहीं 

मुंबई. राकां अध्यक्ष शरद पवार ने कहा है कि विधानसभा में नेता विपक्ष देवेंद्र फडणवीस के पास इन दिनों काफी खाली समय है. इस वजह से वे सनसनीखेज बयान देकर सुर्ख़ियों में बने रहना चाहते हैं. पवार ने यह बात फडणवीस के उस दावे के बारे में कही है, जिसमें फडणवीस ने कहा है कि पिछले साल विधानसभा चुनाव के बाद जब सरकार बनाने के लिए बीजेपी की शिवसेना से बात नहीं बन रही थी. ऐसे समय में उन्हें राकां की ओर से सरकार बनाने का सीधा प्रस्ताव मिला था.

फडणवीस के दावे को किया खारिज 

फडणवीस ने कहा है कि यह प्रस्ताव सीधे राकां अध्यक्ष शरद पवार ने दिया था. पवार ने फडणवीस के दावे को पूरी तरह से खारिज करते हुए कहा कि इसमें कोई सच्चाई नहीं है. उन्होंने कहा कि इन दिनों फडणवीस के पास काफी खाली समय है. ऐसे में इस तरह बयान देकर वे लाइम लाइट में बने रहना चाहते हैं.       

पडलकर को भी धोकर पटका 

राकां अध्यक्ष पवार ने उनके बारे में विवादास्पद बयान देने वाले बीजेपी विधायक गोपीचंद पडलकर को भी उनकी औकात दिखाते हुए जमकर धोया. उन्होंने कहा कि पडलकर ने माढा लोकसभा से आम चुनाव लड़ा था, लेकिन उन्हें काफी कम वोट मिले थे और उनकी जमानत जब्त हो गई थी. बाद में पडलकर ने बारामती से विधानसभा का चुनाव लड़ा. इस चुनाव में भी उन्हें मुंह की खानी पड़ी थी और जमानत से भी हाथ धोना पड़ा था. इससे पहले सांगली विधानसभा चुनाव में भी लोगों ने पडलकर को रिजेक्ट कर दिया था. पवार ने कहा कि वे ऐसे लोगों की बातों को नोटिस में नहीं लेते हैं, जिन्हें जनता ने नकार दिया हो. 

पडलकर ने पवार को कहा था कोरोना 

पडलकर ने हाल ही में अपने एक बयान में कहा था कि शरद पवार महाराष्ट्र के लिए कोरोना वायरस की तरह हैं. उनके इस बयान पर कैबिनेट  मंत्री व राकां नेता जीतेन्द्र आह्वाड समेत अन्य  राकां नेताओं ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि पडलकर अपने इस बयान के लिए माफी नहीं मांगी तो इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे. उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने भी कहा है कि पडलकर सूर्य यानी पवार जैसे बड़े कद के नेता पर थूंकने की कोशिश न करें ,नहीं तो उनका ही चेहरा खराब होगा.