फर्जी बर्थ और मैरिज सर्टिफ़िकेट बनाने वाला गिरफ्तार

  • ट्रैप लगाकर कुर्ला से पकड़ा गया 

मुंबई. क्राइम ब्रांच ने फर्जी जन्म प्रमाण पत्र और मैरिज सर्टिफिकेट बनाने वाले एक शख्स को गिरफ्तार किया है. उसके लैपटाप की जांच में 257 लोगों को फर्जी मैरिज सर्टिफिकेट बनाकर देने का खुलासा हुआ है. उसके पास से 15 फर्जी जन्म प्रमाण पत्र और मैरिज सर्टिफिकेट समेत बीएमसी के रबर स्टैंप बरामद हुआ है.

क्राइम ब्रांच को गुप्त सूचना मिली कि कुर्ला (प.) कोर्ट परिसर में एक शख्स फर्जी जन्म प्रमाण पत्र और मैरिज सर्टिफिकेट बनाने वाले बनाकर लोगों को देता है और उनसे 3 हजार से 5 हजार रुपए तक लेता है. संयुक्त पुलिस आयुक्त मिलिंद कुमार भारंबे और पुलिस उपायुक्त नंदकुमार ठाकुर के मार्गदर्शन में क्राइम ब्रांच युनिट-5 के प्रभारी पुलिस निरीक्षक जगदीश साइल, पुलिस निरीक्षक योगेश चव्हाण, सहायक पुलिस निरीक्षक गणेश जाधव एवं उप निरीक्षक चिंचोलकर की टीम ने ट्रैप लगाकर कुर्ला कोर्ट के पास से संदिग्ध व्यक्ति को पकड़ा.

लैपटॉप भी जब्त कर लिया गया

 पुलिस ने उसके कुर्ला (प.) के जरीमरी स्थित घर पर छापेमारी की, तो वहां से फर्जी फर्जी जन्म प्रमाण पत्र और मैरिज सर्टिफिकेट समेत बीएमसी का रबर स्टैंप बरामद हुआ. उसका लैपटॉप भी जब्त कर लिया गया. जब उसके लैपटॉप की जांच की गयी, तो पता चला कि उसने 257 लोगों को फर्जी जन्म प्रमाण पत्र और मैरिज सर्टिफिकेट बनाकर दिया है. पुलिस ने उसे धोखाधड़ी के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया. उसकी पहचान विजय कुमार राजेंद्र प्रसाद राय उर्फ विजय कुमार ठाकुर (41) के रूप में हुई है.

खुद ही दस्तखत करता था

आरोपी विजय कुमार राय कुर्ला (प.) में बीएमसी ऑफिस और कुर्ला कोर्ट के आस-पास घूमता था और कोई जन्म प्रमाण पत्र और मैरिज सर्टिफिकेट बनवाने के लिए मिलता था, तो वह उसे बना कर देने कहता था. इसके लिए 3 हजार से 5 हजार रुपए तक लेता था. विजय लैपटॉप पर जन्म प्रमाण पत्र और मैरेज सर्टिफिकेट का फार्मेट बनाकर रखा था. उसके आधार पर फर्जी जन्म प्रमाण पत्र और मैरिज सर्टिफिकेट बनाता था. वह कलर प्रिंट निकाल कर उस पर बीएमसी का रबर स्टैंप लगाकर खुद ही दस्तखत करता था.