Fake Covid Vaccination Camps : After Mumbai, ED will investigate fake covid vaccination camp in Kolkata
Representative Image

    सत्यप्रकाश सोनी

    मुंबई. कांदीवली (प) (Kandivali West) चारकोप पुलिस स्टेशन (Charkop Police Station) में मनसे विभाग प्रमुख (MNS Department Head) दिनेश सालवी (Dinesh Salvi) ने एक शिकायतपत्र दिया है जिसमे बताया गया है कि उनके पास एक नीलेश मिस्त्री नाम के शख्स ने शिकायत की थी, बिना वैक्सिन डोज के भेजा जा रहा वैक्सिन सर्टिफिकेट । 

    गुरुवार को सुबह साढ़े 9 बजे वैक्सिन (Vaccine) की पहली डोज के लिए नीलेश मिस्त्री ने ऑनलाइन कोविन ऐप पर अप्लाई किया था। नीलेश ने पेड कोविशिल्ड वैक्सिन बुक किया था।  जिसमे नीलेश को कांदीवली ढाहनुकरवाड़ी स्थित चौहान हॉस्पिटल का स्लॉट बुक हुआ था, लेकिन नीलेश उस दिन बैंक के कामकाज में दिनभर व्यस्त होने के कारण हॉस्पिटल नही जा सका। देर शाम जब नीलेश फिर से वैक्सिन की पहली डोज के लिए ऑनलाइन अप्लाई करने गया तो उसको डाइरेक्टर नीलेश मिस्त्री नाम के वैक्सिन की पहली डोज लेने का सर्टिफिकेट मिल गया जिसको देखकर नीलेश हैरान परेशान हो गया। फर्जी सर्टिफिकेट को लेकर नीलेश मनसे विभाग प्रमुख दिनेश सालवी को इसकी शिकायत दी।

    दिनेश सालवी ने इस शिकायत को लेकर चारकोप पुलिस स्टेशन गए जहां चारकोप सीनियर पीआई मनोहर शिंदे ने तुरंत इसके जांच के आदेश दे दिए है। शिंदे ने बताया कि अगर कोई फर्जी तरीके से ऐसे सर्टिफिकेट दिया है तो उसपर कार्रवाई जरूर की जाएगी। 

    एक मामला कांदीवली ऑस्कर हॉस्पिटल का भी आया था

    चारकोप सीनियर पीआई शिंदे ने बताया कि ऐसा ही एक मामला कांदीवली ऑस्कर हॉस्पिटल का भी आया था लेकिन ऑस्कर हॉस्पिटल द्वारा बताया गया कि उनके हॉस्पिटल में ऐसे किसी को भी  वैक्सिन और सर्टिफिकेट देने की इंट्री नही है। फिलहाल पुलिस यह जांच कर रही है कि कोविन ऐप द्वारा दी गई वैक्सिन सर्टिफिकेट की चौहान हॉस्पिटल में इंट्री है या नहीं। 

    मुझे वैक्सिन की पहली डोज कब लगेगी

    शिकायतकर्ता नीलेश का कहना है कि अगर मुझे वैक्सिन के पहले डोज का सर्टिफिकेट मिल गया है तो मुझे वैक्सिन की पहली डोज कब लगेगी।  मुझे उम्मीद है महानगरपालिका  मुझे जल्द कोविशिल्ड की पहली डोज देगी।