मास्क और सेनिटाइजर की कीमत कंट्रोल करेगी सरकार

  • 3 दिनों में रिपोर्ट देगी 4 सदस्यीय समिति

मुंबई. कोविड-19 से बचने के लिए मास्क एवं सेनिटाइजर का उपयोग किया जा रहा है. लोगों की मजबूरी को देखते हुए कंपनियां एवं विक्रेता मनमानी कीमत वसूल कर रहे हैं.मास्क एवं सेनिटाइजर की कीमत को कंट्रोल करने के लिए सरकार ने चार सदस्यों की कमिटी गठित की है, यह कमिटी तीन दिनों में अपनी रिपोर्ट सौंपेगी.राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने यह जानकारी दी है.

  मास्क एवं सेनिटाइजर की कीमत निश्चित करने को लेकर स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे एवं अन्न व औषधि प्रशासन मंत्री डॉ. राजेंद्र शिंगणे ने संयुक्त बैठक की. जिसमें लिए गए निर्णय के तहत राज्य स्वास्थ्य गारंटी सोसायटी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. सुधाकर शिंदे की अध्यक्षता में समिति गठित की गई है और उसमें  हाफकिन प्रबंध निदेशक, राज्य औषध नियंत्रण प्राधिकारी संयुक आयुक्त सदस्य एवं स्वास्थ्य निदेशक को सदस्य सचिव बनाया गया है. कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए नागरिक मास्क और सेनिटाइजर का बड़े पैमाने पर उपयोग कर रहे हैं. अभी तक कोरोना की दवा नहीं निकली है जिसको लेकर सरकार ने मास्क एवं सेनिटाइजर की कीमत निश्चित करने का निर्णय लिया है.