Some states are not ready to recall migrant workers: Thorat

– थोरात ने साधा फडणवीस पर निशाना

मुंबई. कोरोना संकट पर बीजेपी के महाराष्ट्र बचाओ आंदोलन को लेकर सत्ता पक्ष के नेताओं ने काउंटर अटैक तेज कर दिया है. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और राजस्व मंत्री बालासाहेब थोरात ने कहा है कि संकट की इस घड़ी में बीजेपी नेता सहयोग करने की जगह राज्य में अस्थिरता का निर्माण कर रहे हैं. 

उन्होंने कहा कि बीजेपी नेताओं को रोजाना राजभवन जाने की  जगह  अपने  शहर में जाकर लोगों की मदद करनी चाहिए. थोरात ने सवाल किया कि क्या विधानसभा में नेता विपक्ष देवेंद्र फडणवीस नागपुर के लोगों का हाल लेने के लिए वहां गए हैं. क्या प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल पुणे या कोल्हापुर जाकर स्थिति का जायजा ले रहे हैं. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वन पर विपक्षी दल इस संकट में केंद्र सरकार के साथ सहयोग कर रहे हैं, लेकिन प्रदेश बीजेपी के नेता राजनीति करने में लगे हैं.

केंद्र सरकार से अपेक्षित मदद नहीं मिल रही 

 थोरात ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार को सबसे ज्यादा राजस्व महाराष्ट्र से मिलता है, लेकिन कोरोना संकट में महाराष्ट्र सरकार को केंद्र सरकार से अपेक्षित मदद नहीं मिल रही है. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र को जितनी मेडिकल उपकरण और पीपीई किट के अलावा अन्य चीजों की जरुरत है, उसका सिर्फ 30 प्रतिशत हमें मिला है. थोरात ने कहा कि कोरोना संकट में प्रशासन, डॉक्टर, नर्स,पुलिस, सफाई कामगार समेत कई क्षेत्रों के लोग कोरोना योद्धा की तरह लड़ रहे हैं , ऐसे में बीजेपी नेताओं को भी इस संकट पर राजनीति छोड़ कर जनता और सरकार का सहयोग करना चाहिए.