मुंबई के लोग कैसे जाएंगे ऑफिस!, संजय निरुपम का ठाकरे सरकार से सवाल

    मुंबई. ठाकरे सरकार ने राज्य में कोरोना (Corona) की दूसरी लहर (Second Wave) में कमी आने के बाद 5 चरणों में अनलॉकिंग (Unlocking) की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इसके तहत मुंबई में भी नियमों में कुछ ढील दी गई है। दुकानों और कार्यालयों समेत अन्य प्रतिष्ठानों को समय-सीमा निर्धारित कर शुरू करने की अनुमति दी गई है।

    हालांकि, मुंबई (Mumbai) की ‘लाइफलाइन’ (Lifeline) कही आने वाली लोकल ट्रेन (Local Train) में आम लोगों को सफ़र करने की इजाजत नहीं है। ऐसे में मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष संजय निरुपम ने ठाकरे सरकार से पूछा है कि मुंबई के लोग अपनी दुकानों और ऑफिस में किस तरह से पहुंचेंगे। 

    मुंबईवासियों को इससे कुछ और मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा

    उन्होंने ट्वीट कर कहा कि मुंबई में लॉकडाउन कुछ हद तक हटा दिया गया है। हालांकि मुंबईवासियों को इससे कुछ और मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा। कार्यालय खुल रहे हैं, लेकिन लोकल ट्रेन बंद है। ऐसे में बसों की संख्या बढ़ाई जाए या लोकल को सीमित तरीके से शुरू करने की अनुमति दी जाए, नहीं तो लोग ऑफिस कैसे जाएंगे? वर्क फ्रॉम होम ऑफिस की एक सीमा होती है।