हिम्मत है तो अजीत पवार के खिलाफ करो कार्रवाई! CM उद्धव ठाकरे पर चंद्रकांत पाटिल का हमला

    मुंबई. कोरोना प्रतिबंधक नियमों को लेकर भाजपा (BJP) के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल (Chandrakant Patil) ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Chief Minister Uddhav Thackeray) पर जोरदार हमला किया है। उन्होंने कहा है कि मुख्यमंत्री में यदि हिम्मत है तो वे उप मुख्यमंत्री अजीत पवार (Deputy Chief Minister Ajit Pawar) के खिलाफ कार्रवाई कर के दिखाएं। पाटिल ने कहा कि एक तरफ राज्य सरकार की तरफ से कड़ा प्रतिबंध लगाया गया है, दूसरी तरफ उप मुख्यमंत्री अजीत पवार के कार्यक्रम में कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ाई गई है।

    पत्रकारों से बातचीत में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि पंढरपुर में अजीत पवार की सभा में भारी भीड़ थी। कोरोना नियमों का खुलेआम उल्लंघन किया गया। उन्होंने कहा कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने फेसबुक लाइव करते हुए राज्य की जनता से प्रतिबंधों के पालन में सहयोग की अपील की थी। उसके कुछ ही समय बाद सभा का आयोजन किया गया। पंढरपुर-मंगलवेढा विधानसभा उप चुनाव में महाविकास आघाड़ी की तरफ से एनसीपी के उम्मीदवार भगीरथ भालके के प्रचार को लेकर अजीत पवार पंढरपुर में हैं। चंद्रकांत पाटिल ने सवाल किया है कि क्या महाराष्ट्र में मुगल साम्राज्य स्थापित हो गया है?। हम जो करें वही कानून है। हम पर कोई नियम-कानून लागू नहीं होगा। शरद पवार ने फेसबुक के माध्यम से कहा कि सभी को सहयोग करना चाहिए। हम तो सहयोग कर रहे हैं। हमारा प्रबल विरोध था उसके बावजूद हमने एक शब्द ही नहीं कहा। यदि उद्धव ठाकरे में हिम्मत है तो वे अजीत पवार के खिलाफ कार्रवाई करके दिखाएं।  

    पवार मामला दर्ज करने के लिए कहेंगे क्या?

    विधान परिषद में विपक्ष के नेता प्रवीण दरेकर ने ट्वीट कर महाविकास आघाड़ी सरकार एवं एनसीपी प्रमुख शरद पवार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि एक तरफ शरद पवार कोरोना नियमों का पालन करने के लिए महाराष्ट्र से अपील कर रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ एनसीपी के नेता अजीत पवार की उपस्थिति में कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ाई गई। सवाल यह है कि नियम क्या केवल सामान्य नागरिकों के लिए ही है। पवार साहेब क्या अजीत पवार के खिलाफ मामला दर्ज करने के लिए कहेंगे?। यदि नहीं तो आज से महाराष्ट्र में किसी के खिलाफ भी नियम का उल्लंघन करने का मामला दर्ज नहीं होना चाहिए।

    नवाब मलिक का स्पष्टीकरण 

    राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के मुख्य प्रवक्ता और अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री नवाब मलिक ने कहा है कि किसी भी तरह से नियम का उल्लंघन नहीं हुआ है। सरकार ने जो नियमावली तैयार की है उससे पंढरपुर चुनाव को अलग रखा गया है। भाजपा को उनके उम्मीदवार के लिए यदि अनुमति की जरुरत होगी तो उन्हें भी दी जाएगी। एनसीपी के लिए अलग नियम नहीं है।