रेलवे स्टेशनों पर बढ़ी सुरक्षा

  • मनसे की चेतावनी के बाद प्रशासन सतर्क
  • वसई-विरार के 15 एमएनएस नेताओं को नोटिस

नालासोपारा. महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना द्वारा लोकल ट्रेनों में आम यात्रियों को यात्रा की अनुमति दिए जाने की मांग को लेकर आंदोलन की चेतावनी के बाद नालासोपारा, विरार, वसई और नायगांव रेलवे स्टेशनों पर पुलिस सुरक्षा बढ़ा दी गई है. इस मामले में पुलिस ने 15 मनसे नेताओं को 141 के तहत नोटिस दिया है. हालांकि चेतावनी के बावजूद मनसे कार्यकर्ताओं ने इन क्षेत्रो में कहीं भी, कोई आंदोलन नहीं किया. फिर भी सतर्कता के रूप में इन सभी रेलवे स्टेशनों पर  भारी सुरक्षाबल तैनात किए गए थे, ताकि मनसे कार्यकर्ता किसी भी प्रकार से कानून का उल्लंघन न कर सकें.

उल्लेखनीय है कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए ऐहतियात के तौर पर  उपनगरीय रेल सेवाएं पिछले 6 माह से बंद हैं . मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मिशन बिगिन अगेन के तहत अनलॉक की प्रक्रिया शुरू की है. सरकारी और निजी कार्यालयों में काम शुरू हुआ है. जिसके तहत सार्वजनिक परिवहन सेवा भी शुरू की गयी है.

 रेलवे स्टेशनों पर कड़ा पुलिस बंदोबस्त

अत्यावश्यक सेवा से जुड़े कर्मचारियों के लिए शुरू लोकल ट्रेनों में आम यात्रियों को अनुमति नहीं मिलने से सड़क परिवहन पर दबाव बढ़ा है. बेस्ट एवं एसटी की बसों में यात्रियों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. सामान्य नागरिकों को लोकल ट्रेन में प्रवेश देने की मांग को लेकर मनसे ने सविनय अवज्ञा आंदोलन की घोषणा की थी. जिसके मद्देनजर रेलवे स्टेशनों पर कड़ा पुलिस बंदोबस्त किया गया है.