खुद को सुरक्षित रख कर कोरोना को दें मात

  • मुख्यमंत्री ने की  ‘हमारा परिवार, हमारी जिम्मेदारी’ मुहिम की शुरुआत
  • मुहिम को सफल बनाने ठाकरे ने नगरसेवकों से की बात

मुंबई. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि वैश्विक महामारी कोरोना को मात देने के लिए खुद को सुरक्षित रखना एक सहज उपाय है. नागरिकों को आत्म सुरक्षा के महत्व को समझाने में आज से शुरु हो रही हमारा परिवार, हमारी जिम्मेदारी’ मुहिम कारगर साबित होगी.मुख्यमंत्री ठाकरे ने मुंबई महानगरपालिका को छोड़कर मुंबई महानगर क्षेत्र की महापालिकाओं और नगरपालिकाओं के नगरसेवकों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये संबोधित किया.

प्रत्येक नागरिक की जांच की जानी है

उन्होंने कहा कि हमारा परिवार, हमारी जिम्मेदारी’ मुहिम के तहत प्रत्येक नागरिक की जांच की जानी है. इसके साथ ही कोरोना के खिलाफ संघर्ष में किस तरह से एहतियात बरतना है, उसको लेकर जनजागृति की जानी है. उन्होंने कहा कि राज्य में जनजीवन को सामान्य बनाने के लिए कोरोना का चेन तोड़ना बहुत ही आवश्यक है. इसके लिए सभी को कोरोना के साथ जीना भी सीखना है, हमें अपनी जीवनशैली में बदलाव लाना है. 

सावधानी के साथ आखिरी व्यक्ति तक पहुंचना है

मुख्यमंत्री ने कहा कि मुहिम अधिक महत्व की है. इसलिए जनप्रतिनिधियों और प्रशासन को सावधानी के साथ आखिरी व्यक्ति तक पहुंचना है. मुख्यमंत्री ने इस बात पर जोर दिया कि प्रत्येक को अपनी जिम्मेदारी समझ कर अपने परिवार को सुरक्षित करना होगा तभी महाराष्ट्र सुरक्षित होगा.  संवाद कार्यक्रम में नगरविकास मंत्री एकनाथ शिंदे, ठाणे के महापौर नरेश म्हस्के, राज्य के मुख्य सचिव संजय कुमार, मुख्यमंत्री के प्रधान सलाहकार अजोय मेहता, स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव  डॉ. प्रदीप व्यास, नगरविकास विभाग के प्रधान सचिव  महेश पाठक, राष्ट्रीय स्वास्थ्य अभियान निदेशक डॉ. एन.रामस्वामी, ठाणे मनपा कमिश्नर बिपीन शर्मा सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे.

कोरोना को भगाने के लिए अंतिम प्रहार

नगरविकास मंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि हमारा परिवार, हमारी जिम्मेदारी’ मुहिम कोरोना को भगाने के लिए अंतिम प्रहार है. सरकार ने कोरोना से बचाव के लिए आवश्यक स्वास्थ्य सुविधा की व्यवस्था की है. अब लोक सहयोग से चेन तोड़ने के लिए प्रयास करना है. इसी के तहत यह मुहिम शुरु की गई है. सभी को मिल कर इसे सफल बनाना है.