सुविधाओं से वंचित भायंदर का खोपरा गांव

  • 21वीं सदी में भी विकास से कोसों दूर

अरुण कुमार गुप्ता

भायंदर. मीरा-भायंदर ने ग्रामपंचायत, नगरपरिषद से महानगरपालिका तक का सफर पूरा किया है, लेकिन मनपा क्षेत्र में एक ऐसा भी खोपरा गांव है, जहां के लोग आज भी मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं. गांव में  जाने के लिए सड़क नहीं है. गांव के लोग आज भी कुंए का पानी पीने को मजबूर हैं. प्रशासन की तरफ से कुछ स्थानों पर बोरिंग कर बोरवेल लगाए गए हैं, लेकिन उसमें खारा पानी आता है.

21वीं सदी में भी यह गांव विकास से कोसो दूर है.इस गांव के निवासी बताते हैं कि इस समय उनकी 7वीं पीढ़ी यहां रह रही है. भायंदर पश्चिम में उत्तन रोड पर बसे खोपरा गांव में करीब 60 कच्चे- पक्के घर बने हुए हैं. यहां की जनसंख्या करीब 250 है. निवासियों का कहना हैं कि नेता सिर्फ वोट मांगने आते हैं और जीतने के बाद अपनी शक्ल तक नहीं दिखाते.

सिर पर लाना पड़ता है गैस सिलेंडर

अपनी बात कहते हुए 70 की उम्र पार कर चुकी विठाबाई भावुक हो जाती हैं. वे कहती हैं कि आज भी गैस सिलेंडर हमारे घर तक नहीं आता. एजेंसी सिलेंडर को उत्तन जाने वाले मुख्य मार्ग के नाके पर छोड़कर जाते हैं. वहां से हमे सिलेंडर को सिर पर उठाकर गांव तक लाना पड़ता है.

नहीं हो पाती हैं लड़कों की शादियां

हमारे गांव तक आने के लिए सड़क नहीं होने के कारण कोई भी अपनी लड़की की शादी इस गांव के लड़के से नहीं करना चाहता.जिसके कारण इस गांव के कई लड़के उम्र दराज होने तक कुंवारे ही रहते हैं. मेरी उम्र भी 35 वर्ष हो गई है. सड़क नहीं होने के कारण मेरी शादी नहीं हो रही है 

सरकारी उपेक्षा का शिकार

आजादी के 73 वर्षों बाद भी भायंदर स्टेशन से महज 12-13 किलोमीटर की दूरी पर स्थित खोपरा गांव  मूलभूत सुविधाओं से वंचित है. सरकारी तंत्रों की उपेक्षा का शिकार है.यह बहुत ही दुखद है. मीरा-भायंदर मनपा प्रशासन इस गांव के लोगों की समस्या पर शीघ्र संज्ञान लेगा,ऐसी अपेक्षा करते हैं. -प्रमोद तिवारी,सलाहकार,युथ फोरम

सड़क नहीं बनी तो करेंगे आंदोलन

वर्षों से यहां के रहिवासी सभी प्रकार के टैक्स भरते हैं, जबकि इस गांव में घनकचरा की गाड़ी, अग्निशमन विभाग की गाड़ी कभी नहीं आती. अब हम चुप नहीं बैठेंगे, सड़क निर्माण शीघ्र नहीं शुरू किया गया तो हम उत्तन रोड को जाम कर सड़क बंद आंदोलन करेंगे.

-प्रशांत म्हात्रे, अध्यक्ष,आगरी समाज एकता,मीरा- भायंदर

विधायक गीता जैन का आश्वासन

मीरा-भायंदर की महापौर गीता जैन ने गत दिनों खोपरा गांव का दौरा किया.जैन ने कहा कि उनका प्रयास रहेगा कि सारी सुविधाएं यहां पर उपलब्ध हों. जैन पहली विधायक हैं जिन्होंने गांव का दौरा कर रहवासियों से मुलाकात की.जैन ने यह दौरा सामाजिक सांस्कृतिक संगठन युथ सोशल वेलफेयर एसोसिएशन (युथ फोरम) के निवेदन पर किया था. दौरे में उनके साथ फोरम के अध्यक्ष दीपक जैन, सलाहकार प्रमोद तिवारी, राहुल यादव ,रवि तन्ना भी थे. इस संबंध में फोरम ने राज्यपाल भगतसिंह कोशियारी से भी मुलाकात की थी जिसके बाद उन्होंने मीरा-भायंदर मनपा कमिश्नर को पत्र लिखा था.   

सड़क का होगा निर्माण

इस गांव के लिए सड़क निर्माण की मांग वर्षों से की जा रही है. एक बार मनपा प्रशासन ने सड़क निर्माण की पहल भी की थी, लेकिन गांव तक जाने के मार्ग में नमक विभाग की जमीन पड़ने से कार्य नहींं किया जा सका. लेकिन अब 2019 की महासभा में इस गांव के लिए विकास नक्शा में सड़क को मंजूरी दे गई है.अब शीघ्र ही सड़क निर्माण की दिशा में तेजी से कार्य शुरू किया जाएगा.

– दीपक खांबित,कार्यकारी अभियंता, सार्वजनिक निर्माण विभाग, एमबीएमसी