रेलवे स्टेशनों पर लगी लंबी कतारें, जांच में 10  पॉजिटिव मरीज मिले

  • बाहरी यात्रियों से मुंबई में बढ़ा खतरा

मुंबई. कोरोना के सर्वाधिक प्रभावित चार राज्यों के मुंबई आ रहे यात्रियों की जांच के लिए रेलवे स्टेशनों पर लंबी-लंबी कतारें लग गई हैं. इस बीच बुधवार को बीएमसी (BMC) की तरफ से की गई जांच में 10 मरीज कोरोना पॉजिटिव पाए जाने से बाहर से आने वाले यात्रियों के कारण मुंबई में खतरा बढ़ने की आशंका सही साबित हो रही है. पहले दिन रेलवे स्टेशनों पर 20 हजार लोगों की जांच की गई.

स्टेशनों पर लगी भीड़

मुंबई के चार प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों को साइड करके कतार में खड़ा किया जा रहा है. कुछ समय के अंतराल में  में कई ट्रेनों के आगमन के बाद स्टेशनों पर भारी भीड़ लग गई. लोगों को जल्द अपने घर पहुंचना था, लेकिन अधिकारियों ने स्पष्ट कर दिया कि जब तक जांच पूरी नहीं होगी उन्हें बाहर नहीं छोड़ा जाएगा. कुछ ट्रेनों के यात्री तीन घंटे से कतार में हैं, जिनकी जांच नहीं हुई थी.

बीएमसी की तरफ से जांच के लिए लगाई टीम कम पड़ रही है. ज्यादातर यात्रियों का ऑक्सीजन लेवल चेक कर छोड़ा जा रहा है.  बीएमसी से प्राप्त जानकारी के अनुसार  कोरोना से प्रभावित दिल्ली, गुजरात, राजस्थान व गोवा से मुंबई आए यात्रियों की बीएमसी मेडिकल टीम द्वारा की गई जांच में 10 यात्री कोरोना पॉजिटिव पाए गए.

हालांकि मुंबई में  देर रात आनेवाली ट्रेनों से आए यात्रियों की जांच बाकी थी.  बीएमसी ने मुंबई के 6 रेलवे स्टेशनों पर जांच इन राज्यों से आए यात्रियों के स्क्रीनिंग जांच की व्यवस्था की है. पहले दिन इन स्टेशनों पर  20 हजार यात्रियों की स्क्रीनिंग की गई. इसमें 9779 का एंटीजन टेस्ट किया गया. इस  जांच में बांद्रा रेलवे टर्मिनस पर  5  यात्री  कोरोना पॉजिटिव मिले हैं. जबकि  दादर एवं बोरीवली में 1-1 पैसेंजर कोरोना पॉजिटिव पाए गए. इन राज्यों से आने वाले यात्रियों में ज्यादातर के पास कोरोना की रिपोर्ट नहीं थी.

एलटीटी स्टेशन तिलक नगर में यात्रियों की जांच में 3 यात्री कोरोना पॉजिटिव मिले हैं. यहां पर जांच का जिम्मा एल वॉर्ड को दिया गया है. बोरीवली स्टेशन पर हो रही  जांच में जयपुर एक्सप्रेस से आया एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाया गया.  बोरीवली स्टेशन पर जांच कर रहे एक डॉक्टर ने बताया कि स्क्रीनिंग टेस्ट में वयक्ति का पहले एंटीजन टेस्ट किया गया. एंटीजेन की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर  आरटी पीसीआर टेस्ट किया गया. उसमें भी पॉजिटिव आने के बाद उसे वहीं से एंबुलेंस में पंजाबी लेन के कोविड सेंटर में भेज दिया गया. संक्रमित यात्री जिस डिब्बे में आया था बीएमसी अधिकारियों ने रेलवे से यात्रियों की सूची लेकर सभी को फोन कर होम क्वारंटाइन में रहने की सलाह दे रहे हैं. बीएमसी नोडल अधिकारी तावडे ने बताया कि  बोरीवली में दोपहर तीन बजे तक 26 ट्रेनों के दो से 839 यात्रियों की स्क्रीनिंग की जा चुकी थी.  बीएमसी की स्वास्थ्य टीमें  स्टेशनों पर तीन शिफ्ट में काम कर रही है.

दादर स्टेशन पर जांच में सौराष्ट्र एक्सप्रेस से आया एक पैसेंजर कोरोना पॉजिटिव पाया गया है.  जी/ नार्थ वार्ड के सहायक मनपा आयुक्त  किरण दिघावकर ने बताया कि सौराष्ट्र मेल के 2000 यात्रियों की स्क्रीनिंग की गई, जिसमें से 1 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाया गया. एक व्यक्ति को होम आइसोलेशन में भेजा गया है.  इसी तरह सेन्ट्रल रेलवे पर आनेवाली 13 ट्रेनों के 3400 यात्रियों की स्क्रीनिंग की गई. सीएसएमटी स्टेशन पर भी 1079 यात्रियों की जांच की गई जिसमें कोई भी संक्रमित नहीं मिला है.

मुंबई में 1144 और राज्य में 6,159 नए मरीज

बुधवार को मुंबई में 1144 और राज्य में 6,159 कोरोना के नए मरीज मिले हैं. राज्य में दिन भर में 65 मरीजों की मौत हुई जबकि मुंबई में 19 मरीजों की जान चली गई . मुंबई में कुल मरीजों की संख्या 2 लाख 78 हजार 597 हो गई है. 2 लाख 53 हजार 341 मरीज ठीक हुए हैं. अब तक मुंबई में 10,725 मरीजों की मौत हुई है.  राज्य में कुल मरीजों की संख्या 17 लाख 95 हजार 959 हो गई है. अब तक 16 लाख 63 हजार 723 मरीज ठीक हुए हैं. राज्य में कोरोना से मरने वाले मरीजों का आंकड़ा 46,748 पर पहुंच गया है. दिन भर में राज्य में 4,844 मरीज ठीक हुए हैं.