Maharashtra Vaccination
PTI Photo

    मुंबई. कोविड-19 के संक्रमण से रक्षा के लिए 16 जनवरी को राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान (Vaccination Campaign) शुरू होने के बाद से ही महाराष्ट्र (Maharashtra) टॉप (Top) पर है। अब तो 3 करोड़ लोगों का टीकाकरण कर कोविड-19 टीके लगाने वाला भारत का पहला राज्य बन गया है। दूसरी लहर (Second Wave) के बाद अब राज्य पर तीसरी लहर (Third Wave) का संकट मंडरा रहा है। एक्सपर्ट्स की मानें तो तीसरी लहर के  प्रभाव को कम करने के लिए लोगों का टीकाकरण कार्य पूर्ण होना बेहद जरूरी है। कम से कम राज्य के 70 से 80 फीसदी जनसंख्या का टीकाकरण हो जाता है तो कोरोना के प्रकोप को सीमित किया जा सकता है। 

    हालांकि वैक्सीन की कमी के कारण मुहिम को काफी झटका भी लगा, लेकिन राज्य ने  जैसे-तैसे मुहिम को आगे बढ़ाया। अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) डॉ. प्रदीप व्यास ने बताया कि शुक्रवार को दोपहर के दो बजे के लगभग राज्य में 3 करोड़ 27 हजार 217 लोगों को वैक्सीनेट किया गया है। वहीं कोविन से प्राप्त आंकड़ों के मुताबिक, शाम 6 बजे तक राज्य में टीकाकरण का आंकड़ा 3 करोड़ 1 लाख 35 हजार 508 तक पहुंच गया है। 

    58 लाख ने ली दोनों डोज

    राज्य में 3।1 करोड़  लोगों ने वैक्सीन ले ली है, जिसमें से 58 लाख 3 हजार  396 लोगों ने टीके की दोनों डोज ले ली है। जबकि 2 करोड़ 43 लाख 32 हजार 112 लोगों ने वैक्सीन की पहली खुराक ली है। 

    टीका लेने में पुरुषों आगे

    राज्य में टीका लगवाने के मामले पुरुष आगे चल रहे हैं। अबतक जहां 1 करोड़ 63 लाख 41 हजार 947 पुरुषों ने वैक्सीन ली है, वहीं 1 करोड़ 37 लाख 89 हजार 359 महिलाओं ने अबतक वैक्सीन की खुराक ली है। 

    उम्र के हिसाब से टीकाकरण

     उम्र           टीकाकरण
    18 से 44 87,73,802
    45 से 60 1,12,27,243
    60 प्लस 1,01,34,463

    3 करोड़ लोगों का टीकाकरण करनेवाला महाराष्ट्र देश का पहला राज्य बन गया है। जितनी दिक्कतों का सामना राज्य ने किया है उसे देखते हुए ये उपलब्धि बड़ी है। अब वैक्सीन तीसरी लहर से लोगों को बचाने में कितनी कारगर साबित होगी यह तो आनेवाला समय ही बताएगा।

    -डॉ. ओम श्रीवास्तव, सदस्य, कोविड टॉस्क फ़ोर्स, एवं संक्रामक रोग विशेषज्ञ