अंधेरी में ‘धिक्कार मोर्चा’ का आयोजन

मुंबई. मुंबई मेट्रो कार शेड को आरे कॉलोनी से हटाकर कांजुरमार्ग ले जाने के पीछे अघाड़ी सरकार के प्रतिशोधात्मक रवैये और जनता के गाढ़ी कमाई का होने वाले नुकसान के बारे में सभी को अवगत कराने के लिए भारतीय जनता युवा मोर्चा मुंबई ने आज अंधेरी में ‘धिक्कार मोर्चा’ का आयोजन किया. इस मोर्चे का नेतृत्व मुंबई भाजपा अध्यक्ष मंगल प्रभात लोढ़ा ने किया. 

भारतीय जनता पार्टी मुम्बई के अध्यक्ष मंगल प्रभात लोढ़ा ने कहा कि कि मुंबई मेट्रो लाइन-3 भारत की वित्तीय राजधानी मानी जाने वाली मुंबई के यातायात का दृश्य पूरी तरह से बदलने की क्षमता रखने वाली परियोजना है. यह कोलाबा, बांद्रा, सिप्झ होकर जाने वाला 33.50 किलोमीटर लम्बा मार्ग है. जिसके द्वारा मुंबई की यातायात की रुकावटें काफी हद तक कम हो सकती है, लेकिन अफ़सोस अघाड़ी सरकार खुद ही मुंबईकरों के जीवन की इस नई लाइफलाइन में रुकावट बन कर खड़ी हो गयी.

षड़यंत्र स्पष्ट दिख रहा : प्रवीण दरेकर

महाराष्ट्र सरकार में विधान परिषद प्रतिपक्ष नेता प्रवीण दरेकर ने महाविकास अघाड़ी सरकार पर  निशाना साधते हुए कहा कि यह मुंबई की बहुउद्देशीय प्रयोजना मेट्रो लाइन-3 को अधर में लटकाने के लिए उद्धव सरकार द्वारा रचा गया बहुत ही बड़ा गंभीर षड़यंत्र है. इस षड़यंत्र में मुम्बईकरों की गाढ़ी कमाई डुबाने वाली है. साथ-साथ ही उन्हें कई वर्षों तक सड़कों पर भारी जाम के बीच धक्के खाने को विवश होना पड़ेगा. आरे कॉलोनी में लगभग नवनिर्मित मेट्रो कार शेड को वहां से दूर कांजूरमार्ग स्थानांतरित करने करने के पीछे महाविकास अघाड़ी सरकार की यह षड़यंत्र स्पष्ट दिख रहा है. 

भाजयुमो अध्यक्ष तेजिंदर सिंग तिवाना ने  कहा कि अगर मेट्रो -3 का निर्माण कार्य विपक्ष नेता देवेंद्र फडणवीस के दृष्टिकोण के हिसाब से चल रहा होता तो 2021 के अंत तक मुम्बईकर ट्रैफिक की भीड़भाड़ और शोर से दूर शांति और आराम से मेट्रो में यात्रा कर रहे होते. अघाड़ी सरकार को मुंबई की जनता से कुछ लेना-देना नहीं है. सरकार अपनी राजनीति खेलने में व्यस्त है.  इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी के स्थानीय विधायक अमित साटम, नगरसेवक सुनील यादव, नगरसेवक अभिजीत सावंत, नगरसेवक पंकज यादव, जिला अध्यक्ष संतोष मेढेकर आदि उपस्थित थे. इस मोर्चे में भाजपा और युवा मोर्चा मुंबई के कई पदाधिकारी और कार्यकर्त्ता भी शामिल हुए. 

-सत्यप्रकाश सोनी