Malaria Resistance Month organized

    मुंबई. एक ओर जहां कोरोना महामारी (Corona Pandemic) की दूसरी लहर (Second Wave) महाराष्ट्र सहित पुरे देश में धीरे-धीरे कम हो रही है, वहीं दूसरी तरफ बारिश के मौसम में डेंग्यू (Dengue), मलेरिया (Malaria) जैसी बीमारी का प्रकोप बढ़ जाता है। मीरा-भायंदर महानगरपालिका की ओर से मलेरिया प्रतिरोध माह का आयोजन किया है। इसमें वार्ड क्रमांक 19, 21 में बारिश में होने वाली बीमारियों के प्रति सचेत करते हुए लोगों में जागरुकता अभियान की शुरुआत की गई है।

    जुन माह में अभी बारिश की शुरुआत हुई है और  मलेरिया, डेंग्यू और वर्षाजनित बीमारी से बचने के लिए मीरा-भायंदर महानगरपालिका की स्वास्थ्य टीम सजग हो गई है। लोगों को ‘हिवताप प्रतिरोध महिना’ उपक्रम के तहत जागरुकता अभियान शुरु कर दिया गया है जिसमें मास सर्वेक्षण, डोर-टू-डोर सर्वे स्वास्थ्य टीम के द्वारा किया जा रहा है।  जहां भी मलेरिया या डेंग्यू के लार्वा मिल रहे है वहां दवा का छिड़काव किया जा रहा है। मलेरिया नियंत्रण अधिकारी डॉ. नंदकिशोर लहाने तथा वैद्यकीय अधिकारी डॉ. गायत्री जाधव के मार्गदर्शन में लोगों को जागरुक किया जा रहा है। 

    बहुउद्देशीय स्वास्थ्य कर्मचारी रश्मी सावंत ने बताया कि इस अभियान के तहत लोगों में जागरुकता लाने के लिए कई तरह के आयोजन किए जा रहे है, जिसमें महिला बचत गट के लोगों के साथ रंगोली प्रतियोगिता को आयोजन किया जा रहा है। स्थानीय वार्ड क्रं. 19,21 को लोगों में अवेयरनेंस लाने के लिए निबंध लेखन प्रतियोगिता का भी आयोजन किया जा रहा है। साथ ही चित्रों के प्रदर्शनी के साथ-साथ ही लोगों को हैंडबिल भी दिया जा रहा है। जिससे लोगों में मलेरिया, डेंग्यू जैसी बीमारियों के प्रति सचेत रहें। बहुउद्देशीय आरोग्य कर्मचारी रुपाली शेलवले ने बताया कि सर्वे करते समय हमारी टीम को जहां भी मलेरिया, डेंग्यू का लार्वा मिलता है वहां दवा के छिड़काव किया जाता है और लोगों से कहा जाता है कि एक जगह पानी जमा न करें। जिससे बीमारी से बचा जा सके। उन्होंने बताया कि इस तरह का अभियान लगातार जारी रहेगा।