शहीद मेजर की पत्नी सेना में बनी लेफ्टिनेंट

  • सैन्य अधिकारी अकादमी में पूरा किया प्रशिक्षण

अनिल चौहान

भायंदर. शहीद मेजर कौस्तुभ राणे की वीर पत्नी कनिका राणे भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बन गईं हैं. शनिवार को उनके कंधे पर लेफ्टिनेंट पद का दो स्टार लग गया. हाल ही में चेन्नई स्थित सैन्य अधिकारी अकादमी में प्रशिक्षण पूरा किया था.

उल्लेखनीय है कि 6 अगस्त 2018 को उत्तरी कश्मीर के गुरेज सेक्टर में आतंकवादियों की घुसपैठ को नाकाम करते समय मेजर कौस्तुभ राणे वीरगति को प्राप्त हो गये थे.उस समय उनका इकलौता पुत्र 2 साल का था.तब उनकी पत्नी उनके पद चिन्हों पर चलते हुए सेना में जाने का निर्णय की थी.पति के शहीद होने के बाद उन्होंने खुद को संभाला और बेटे की परवरिश करते हुए सैन्य भर्ती परीक्षा की तैयारी भी की.कनिका कंप्यूटर इंजीनियर हैं.साथ ही एमबीए भी की हैं.राणे परिवार मीरा रोड में रहता है.

बहुत साहसिक कदम 

कनिका राणे ने मीडिया से कहा कि उन्होंने तो बस अपने पति के साथ जिम्मेदारियों की अदला-बदली की है, क्योंकि उनकी जगह पर वे भी रहते तो यही करते.उन्होंने कहा कि वह अपने पति के उन सपनों और लक्ष्यों को पूरा करने के लिए भारतीय सेना में आई हैं,जो वे अपने पीछे छोड़ गए हैं. शहीद मेजर की माता ज्योति राणे ने उस समय मीडिया से कहा था कि बहु कनिका के सेना में जाने के निर्णय का परिवार को खूब अभिमान है.जितना खुशी बेटे के सेना में भर्ती होने के समय हुई थी,उतनी ही खुशी बहु के सेना में जाने के निर्णय से हुई है.पति खोने के बाद उसने दुःख को मात दी और सेना में जाने का निर्णय लिया और वर्ष भर उसकी तैयारी की.यह बहुत साहसिक कदम है.