मीरा-भायंदर मनपा प्रभाग समिति सभापति पद के लिए भरे गए पर्चे

भायंदर. मीरा-भायंदर मनपा के सभी 6 प्रभाग समितियों के सभापति पद के लिए शुक्रवार को नामांकन दाखिल किए गए. चुनाव 27 अक्टूबर को होना है. पिछली समितियों का कार्यकाल 31 मार्च को ही खत्म हो गया था.लॉकडाउन के कारण चुनाव नहींं कराया जा सका. नए सभापतियों का कार्यकाल 5 महीने का ही होगा. 

भाजपा ने सभी सीटों पर उम्मीदवार उतारे हैं, जबकि शिवसेना और कांग्रेस साझा रूप से 4 सीट पर प्रत्याशी दिए हैं. पिछले टर्म में छहों समितियों पर भाजपा का कब्जा था. इस बार भी कमल खिलना तय है. प्रभाग समिति क्रमांक एक से भाजपा की वैशाली रकवी और शिवसेना से हेलन जॉर्जी गोबिंद ने पर्चा भरा है.प्रभाग समिति 3 से भाजपा की मीना कांगड़े के सामने शिवसेना की अर्चना कदम ने नामांकन भरा है. प्रभाग समिति क्रमांक चार से भाजपा के दौलत गजरे के सामने कांग्रेस की गीता परदेशी और प्रभाग समिति 5 से हेतल परमार के सामने कांग्रेस के अशरफ शेख मैदान में हैं. प्रभाग समिति क्रमांक 2 और 6 से क्रमशः रक्षा भूपतानी, सचिन म्हात्रे भाजपा से पर्चा भरे हैं. इनके सामने दूसरे दल का प्रत्याशी नहीं होने से इनका निर्विरोध चयन तय है. 

 मनोनीत नगरसेवकों के नाम फाइनल 

राजस्थानी छत्तीस कौम के नेता सोहन सिंह राजपुरोहित के नामांकन वापस ले लेने से भाजपा से मनोनीत होने वाले नगरसेवकों का नाम भी फाइनल हो गया हैं. शिवसेना से विक्रम प्रताप सिंह और कांग्रेस से एड. एस.ए खान का नाम पहले ही फाइनल हो गया था.भाजपा कोटे की 3 सीट के लिए 4 नामांकन आने से गतिरोध बना हुआ था. सोहन सिंह का पत्ता पार्टी ने काट दिया. इसके बाद एनसीपी से आये भगवती शर्मा, मीरा-भायंदर मनपा के सेवा निवृत्त अधिकारी अजीत पाटिल और भाजपा के पुराने नेता अनिल भोसले का नाम फाइनल हो गया.