Surgical Gloves
File Photo

    मुंबई. कोरोना संकट (Corona Crisis) के बीच भी रिश्वतखोरी में कोई कमी होने के संकेत नहीं है। बुधवार को म्हाडा (MHADA) के रिपेयर बोर्ड कफ परेड (Repair Board Cuff Parade) में कार्यरत सेक्शन इंजीनियर (Section Engineer) राजकुमार हणमंत बरुडे (53) को एंटीकरप्शन ब्यूरो (Anti Corruption Bureau) के अधिकारियों ने एक लाख रुपए रिश्वत (Bribe) लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार (Arrested) किया है।

    एंटीकरप्शन के अपर पुलिस उपायुक्त रमेश धुमाल के अनुसार, शिकायतकर्ता म्हाडा के ही रिपेयर बोर्ड में ठेका लेकर छोटा-मोटा काम करता है। ठेकेदार को ए वॉर्ड के अंतर्गत वर्ष 2019-20 में रिपेयर के कुल 36 काम मिले थे।  काम पूरा होने के बाद बिल का 22, 60,000 रुपए हुए थे। जिसमें से 5,00,000 रुपए के बिल मंजूर हो गए थे। 

    बिल मंजूर करने मांगी थी रिश्वत

    बचा हुआ बिल मंजूर करने के लिए 1 लाख रुपए की रिश्वत मांगी गई थी। ठेकेदार ने 16 फरवरी को ही एंटीकरप्शन में सेक्शन इंजीनियर की शिकायत कर दी थी। जिसके बाद ब्यूरो के अधिकारियों ने बरुडे को पकड़ने के लिए जाल बिछाया और आखिरकार वह जाल में फंस ही गया। बरुडे को गिरफ्तार कर लिया गया है। हालांकि अभी तक म्हाडा से उसको निलंबित नहीं किया गया है।