विक्रोली के दुर्घटना पर मुंबई मेयर का बयान – लोगों को हटने के लिए 3 बार दी गई थी चेतावनी

    मुंबई : हादसे के बाद नेता या किसी अधिकारी के अलग-अलग बयान सामने आते हैं। उन्हें सुन कर हम कभी हैरान रह जाते हैं, या नाराज हो जाते हैं। ऐसे वक्त में पीड़ितों को मदद की उम्मीद होती हैं। लेकिन ऐसे बयान सुनकर ऐसा लगता हैं मानो समस्या से बचने के लिए दूसरों पर दोषारोपण कर रहे हों। मुंबई में रात भर हुई भारी बारिश की वजह से चेंबूर इलाके के वाशीनाका में भारत नगर के पीछे भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर (BARC) के बाउंड्री वॉल का एक हिस्सा गिर जाने से आज (रविवार, 18 जुलाई) एक भीषण हादसा हुआ।

    दीवार के नीचे कई झुग्गियां थीं जो दब गईं और उसके मलबे में दबने से अब तक 18 लोगों की मौत हो गई। इसी तरह विक्रोली में भी चट्टान खिसकने से एक इमारत ढह गई और अब तक 5 लोगों की मौत हो गई है। भांडुप में भी पंपिंग स्टेशन की दीवार के कुछ हिस्से गिर गए। इस घटना में एक की मौत हो गई। यानी इन तीन दुर्घटनाओं में अब तक 24 लोगों की मौत हो चुकी है। एनडीआरएफ की टीम द्वारा रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। अब भी कई लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है।

    आरोप: मनपा कार्यवाही करे तो विरोध करते है निवासी लोग

    इन घटनाओं पर मुंबई की मेयर किशोरी पेडणेकर (Kishori Pednekar) ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि महापालिका अधिकारियों से उन्होंने इस बारे में चर्चा की है। अधिकारियों ने जो उन्हें रिपोर्ट दी है उसके मुताबिक तीन-तीन बार जाकर लोगों को खतरों से आगाह किया गया। लेकिन लोग अपना घर छोड़ कर बाहर निकलने को तैयार ही नहीं होते। ऐसे में जब महापालिका या कोई और संस्था कार्रवाई करने जाती है तो लोग विरोध करने के लिए खड़े हो जाते हैं। किशोरी पेडनेकर ने कहा कि चेंबूर के बारे में मैंने जानकारी मांगी तो अधिकारियों ने यही कहा। वहां भी निवासियों से तीन-तीन बार कहा गया था।

    लोग अपना घर छोड़ने के लिए नहीं होते तयार

    मुंबई की मेयर किशोरी पेडणेकर कहती हैं कि लोगों से कहा गया था कि बरसात की वजह से होने वाली परेशानियों को देखते हुए बारिश भर कहीं और चलें। कई जगहों में लोगों को उनकी बस्तियों से अन्य जगहों पर शिफ्ट किया जाता है। अपनी जिंदगी बचाने के लिए लोगों को खुद सावधानी बरतनी चाहिए. जो दुर्घटना हुई है वो दर्दनाक है। लेकिन लोगों से यही विनती है कि वे महापालिका के साथ सहयोग किया करें।