Black Fungus Updates: Dangerous cases of black fungus in Mumbai, 3 children had to have their eyes removed
Representative Picture

    सूरज पांडे

    मुंबई. कोरोना (Corona) के बाद अब ब्लैक फंगस (Black Fungus) की मार से भी मुंबईकर उबर रहे हैं। मुंबई (Mumbai) में फिलहाल 110 एक्टिव मरीज (Active Patient)हैं, जबकि 274 मरीज मुंबई के बाहर से हैं जो शहर के विभिन्न अस्पतालों में उपचार ले रहे हैं। डॉक्टरों की मानें तो मुंबई में समय पर हाई रहे कोविड मरीजों का फॉलो-अप, जांच और इलाज के कारण और बीमारी के शुरुआत में ही सटीक उपचार के कारण लोग ठीक हो रहे है, लेकिन यह भी दुखद बात है कि इस बीमारी से अबतक कुल 128 लोगों की जिंदगी समाप्त हो चुकी है।

    बाहर से आने वालों की संख्या ज़्यादा 

    मुंबई सहित एमएमआर में कोविड की दूसरी लहर शांत हो ही रही थी कि कोविड से हाल में ही ठीक हुए लोगों को ब्लैक फंगस ने जकड़ लिया। दिक्कत तब और भी बढ़ गई जब लोगों को इस बीमारी के कारण आंखों की रोशनी, मुंह का हिस्सा खोना पड़ा। यहां तक कि कई लोगों को अपनी जान भी गवानी पड़ी। अतिरिक्त मनपा आयुक्त सुरेश काकानी ने बताया कि इस बीमारी से अबतक 40 मुंबईकरों की और मुंबई के बाहर के 88 लोगों की मौत हुई। यानी कुल मिलाकर 128 लोगों की जीवनलीला समाप्त हो गई है। मुंबई में पहले की तुलना में केसेस कम हो रहे हैं, जबकि मुंबई के बाहर से अब भी मरीज आ रहे हैं। समय पर बीमारी की पहचान और उपचार से संक्रमण को रोक कर उसके इलाज में मदद मिलती है। मुंबई में हम कोविड मरीजों पर बारीकी से नजर बनाए हुए हैं। जबकि बाहर से आने वाले मरीजों की संख्या अब भी ज्यादा है।

    हाई डायबिटीज और 7 दिन से अधिक ऑक्सीजन सपोर्ट पर रहे कोविड मरीजों में ब्लैक फंगस संक्रमण होने का खतरा बना रहता है। ऐसे में हम कोविड से ठीक होने के बाद व्यक्ति को पोस्ट कोविड ओपीडी में बुलाते हैं। कुछ मरीज अपनी समस्याएं डॉक्टरों के साथ शेयर करते हैं। लक्षण के अनुसार जांच होती है और यदि रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो तत्काल उपचार शुरू करते हैं। समय पर जांच और उपचार से इस बीमारी को हराया जा सकता है।

    -डॉ. रमेश भारमल, निदेशक ,मनपा प्रमुख अस्पताल एवं डीन नायर अस्पताल

    ब्लैक फंगस से निपटने के लिए मनपा ने डॉक्टरों को ट्रेनिंग दी है। इसके अलावा उन्हें गूगल शीट दिया गया जिसमें उन्हें मरीज के बारे में जानकारी भरनी होती है, जिसके बाद उनके मांग के अनुसार दवाइयों की आपूर्ति की जाती है। फिलहाल हमारे पास दवाइयों की भी कमी नहीं है।

    - सुरेश काकानी,अतिरिक्त मनपा आयुक्त (स्वास्थ्य)

    मौत चिंता का विषय

    स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक मुंबई के बाहर से आ रहे ब्लैक फंगस के मरीजों की बढ़ती संख्या और मौत चिंता का विषय है। मुंबई में अबतक कुल 208 मरीज रिपोर्ट हुए हैं, जबकि ऑउट ऑफ मुंबई 533 मरीज रिपोर्ट हो चुके हैं।

    मुंबई की वर्तमान स्थिति

    • एक्टिव केस – 110
    • ठीक हुए-  58
    • मौत- 40
    • कुल – 208 केस

    ऑउट ऑफ मुंबई

    • एक्टिव केस- 274
    • ठीक हुए- 171
    • मौत- 88
    • कुल- 533