Navbharat e-charcha meet Ravindra Bhakar and Shivaji Sutar at 6 pm today

मुंबई. आज यानि 26 जून को शाम 6 बजे दक्षिण रेल्वे व मध्य रेल्वे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी (CPRO) रविंद्र भाकर और शिवाजी सुतार, कोविड-19 e-चर्चा कार्यक्रम में नवभारत के साथ जुड़कर अपने बहुमूल्य विचार रखने वाले हैं। हमारे दोनों अतिथि आज के कार्यक्रम में ‘कोविड के पश्चात्: रेल्वे प्रशासनिक चुनौतियां’ विषय पर लाइव चर्चा करेंगे। इन्हें सुनने और इस विषय पर इनके विचार जानने  के लिए आप नवभारत के फेसबुक पेज (https://www.facebook.com/enavabharat)  पर जाए।

आज हमारे साथ जुड़ने वाले पहले अतिथि रविंदर भाकर हैं। 1999 बैच के इंडियन रेलवे स्टोर्स सर्विस (IRSS) अधिकारी रविंदर भाकर वेस्टर्न रेलवे (WR) के मीडिया मैनेजर है और मुख्य जनसंपर्क अधिकारी (CPRO) के पद को संभाल रहे है। मुख्य जनसंपर्क अधिकारी के रूप में अपनी नियुक्ति से पहले, भाकर को मुंबई के चर्चगेट में  वेस्टर्न रेलवे के उप मुख्य सामग्री प्रबंधक के रूप में काम कर रहे थे। भाकर ने एमएनआईटी, जयपुर से मैकेनिकल इंजीनियरिंग की हैं।

उन्होंने आईआरएसएस अधिकारी के रूप में अपने विशिष्ट करियर और मध्य और पश्चिम रेलवे में कई महत्वपूर्ण पदों पर रहने का समृद्ध अनुभव प्राप्त किया है। उन्होंने सेंट्रल रेलवे (CR) और वेस्टर्न रेलवे (WR) में उत्कृष्ट सेवा के लिए महाप्रबंधक पुरस्कार सहित कई प्रतिष्ठित पुरस्कारों को प्राप्त किया हैं, उन्होंने इलेक्ट्रॉनिक खरीद के कार्यान्वयन और विभिन्न मल्टी-मोडल लॉजिस्टिक्स योजनाओं के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

वही हमारे दूसरे अतिथि शिवाजी मारुति सुतार हैं जो भारतीय रेलवे यातायात सेवा (2008 बैच) के एक अधिकारी हैं और फ़िलहाल वह मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी (CPRO) के रूप में पदभार संभाल रहे हैं। मुख्य जनसंपर्क अधिकारी (CPRO), मध्य रेलवे का शासन संभालने से पहले सुतार मुंबई मंडल, मध्य रेलवे के वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक के रूप में काम कर रहे थे। उन्होंने ईस्ट कोस्ट रेलवे में एरिया मैनेजर – विशाखापत्तनम स्टील प्लांट, डिवीजनल ऑपरेशंस मैनेजर (वॉल्टेयर डिवीजन), एरिया मैनेजर (परदीप पोर्ट) के रूप में विभिन्न पदों पर काम किया है।

आईआरटीएस अधिकारी ने प्रभागीय वाणिज्यिक प्रबंधक और मंडल परिचालन प्रबंधक, मुंबई डिवीजन के रूप में भी काम किया है और उपनगरीय परिचालन से अच्छी तरह वाकिफ है। अब तक के अपने करियर में, शिवाजी सुतार को भारतीय रेलवे में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए क्रमशः 2017 और 2018 में महाप्रबंधक का पुरस्कार और माननीय रेल मंत्री द्वारा राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। मुंबई डिवीजन में उपनगरीय सेवाओं, मेल / एक्सप्रेस ट्रेनों को चलाने के लिए मुंबई डिविजन की संपत्ति में सुधार करने में उन्होंने बहुत योगदान दिया है।