file photo
file photo

  • मुंबई के 2 लाख विद्यार्थी रहे परेशान

मुंबई. नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने शुक्रवार को नीट 2020 परीक्षा का परिणाम घोषित तो कर दिया, लेकिन ऑनलाइन रिजल्ट देखने के वेबसाइट पर विद्यार्थियों, अभिभावकों की भीड़ इस कदर उमड़ पड़ी की वेबसाइट ही क्रैश हो गई. नतीजतन अपना रिजल्ट देखने की बाट जोह रहे मुंबई के 2.28 लाख विद्यार्थी और उनके अभिभावक घंटों परेशान रहे.

 चाहे कोई भी परीक्षा हो रिजल्ट की तिथि घोषित होते ही विद्यार्थियों और अभिभावकों की दिल की धड़कने तेज हो जाती है. तय समय के पहले से विद्यार्थी और अभिभावक वेबसाइट पर अपनी नजर गड़ाए रहते हैं ताकि वे अपना रिजल्ट देख सकें. मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश के लिए 13 सितंबर और 14 अक्टूबर को ली गई नीट परीक्षा का परिणाम गुरुवार को घोषित हुए. 15 लाख परीक्षार्थियों की नजर रिजल्ट पर टिकी हुई थी. 4 बजे ऑनलाइन रिजल्ट की घोषणा की गई, लेकिन एक समय पर वेबसाइट पर उमड़ी भीड़ के कारण वेबसाइट क्रैश हो गई.

कुछ समय पहले ही परिणाम हो घोषित

नीट की परीक्षा देने वाले अभिजीत दमामे ने कहा कि रिजल्ट देखने के लिए वेबसाइट ओपन की तो उसपर यह संदेश मिल रहा है कि जल्द रिजल्ट उपलब्ध होगा. 2 घंटे हो गए लेकिन रिजल्ट का कुछ पता नहीं है. घरवाले भी परेशान है. शिक्षा क्षेत्र से जुड़े जानकारों ने बताया कि परीक्षा लेने वाली एजेंसियों को निर्धारित समय से कुछ समय पहले ही परिणाम की घोषणा करनी चाहिए उदाहरण के तौर पर ‘द इंडियन इंस्टीट्यूट आफ चार्टर्ड एकाउंटेंट ऑफ़ इंडिया’ को ही देख लो जो समय के पहले ही रिजल्ट घोषित किया जाता है. ऐसे में वेबसाइट पर एक ही क्षण में जो भीड़ उमड़ती है उससे बचा जा सकता है.

सोशल मीडिया पर भी फूटा गुस्सा

परीक्षा दे चुके कैंडिडेट्स परिणाम जान ने के शुक्रवार को अपने कंप्यूटर, लैपटॉप और मोबाइल पर चिपके हुए थे. खबर लिखे जाने तक वेबसाइट की ठीक नहीं हो पाई थी. सोशल मीडिया जैसे ट्वीटर, फेसबुक और इंस्टाग्राम पर कैंडिडेट्स का गुस्सा भी फूटा.

एजेंसी की तैयारी अधूरी

साइबर एक्सपर्ट रितेश भाटिया ने कहा कि परीक्षा की वेबसाइट का क्रैश होना लाजमी है. एका-एक वेबसाइट पर जब लोड बढ़ता है और लोड को संभालने की तैयारी नहीं की है, तो परेशानी तो झेलनी पड़ेगी. इस समस्याओं को टाल सकते हैं बस यह थोड़ा खर्चीला है.