Devendra Fadnavis, Gondia

  • फडणवीस ने कहा- कांजुरमार्ग में मेट्रो कारशेड बढ़ाएगा तिजोरी पर भार
  • 4 से 5 साल और लटक सकती है परियोजना

मुंबई. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मेट्रो कारशेड आरे कालोनी से कांजुरमार्ग ले जाने का निर्णय लिया है. इसकी वजह से न केवल सरकार की तिजोरी पर भार पड़ेगा, बल्कि परियोजना भी 4 से 5 साल लटक जाएगी. इस तरह की प्रतिक्रिया पूर्व मुख्यमंत्री और विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने व्यक्त की है. उद्धव ठाकरे ने कहा था कि कांजुरमार्ग की जमीन के लिए एक भी पैसा नहीं खर्च करना पड़ेगा. इस पर देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि नो-कॉस्ट’ नहीं, बल्कि ‘नो-मेट्रो’ प्रस्ताव!

पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा है कि कारशेड को कांजुरमार्ग में ले जाने से मेट्रो-3 की समस्या से छुटकारा नहीं मिलेगा. बल्कि मेट्रो -3 और मेट्रो-6 दोनों मेट्रो का परिचालन प्रभावित होगा. मेट्रो-6 का आरे से कांजुरमार्ग मार्ग तक विभिन्न रेल मार्गों की वजह से अड़चन आएगी और इसका असर मेट्रो-3 पर भी पड़ेगा. दोनों मेट्रो के क्रियान्वयन क्षमता पर विपरीत प्रभाव पड़ेगा और नुकसान भी होगा. 

परियोजना का खर्च भी बढ़ेगा

पूर्व मुख्यमंत्री फडणवीस ने कहा है कि टनल का काम 76 प्रतिशत पूरा हो गया है, लेकिन कारशेड को बनने में 4 से 5 साल लग सकते हैंं. परियोजना का खर्च भी बढ़ेगा जिसे आखिरकार यात्रियों की जेब से ही वसूल किया जाएगा. फडणवीस ने कहा है कि पर्यावरण के लिए संघर्ष करने वालों का मैं सम्मान करता हूं, लेकिन आरे कारशेड की जगह दूसरा कोई पर्याय नहीं होने के बाद निर्णय लिया गया था. अब यही पर्यावरणवादी साल्ट पेन की जगह पर मैंग्रोज वाली जगह पर कारशेड निर्माण का समर्थन करेंगे क्या?