पटेलवाड़ी में 1 साल से नहीं उठाया जा रहा कचरा !

  • क्षेत्र में महामारी फैलने की आशंका बढ़ी

शीतला प्रसाद सरोज

मुंबई. इन दिनों जोगेश्वरी ( प.) (Jogeshwari  west) के बेहरामबाग (Behrambagh) स्थित पटेलवाड़ी (Patelwadi) में लगे कचरे (Garbage) के ढेर से लोग काफी परेशान हैं. स्थानीय लोगों कहना है कि हम लोग मनपा के संबंधित विभाग से कई बार शिकायत (complaint) कर चुके हैं, लेकिन ध्यान नहीं दिया जा रहा है. समय रहते अगर गंदगी की साफ-सफाई नहीं की गई तो क्षेत्र में कोरोना जैसी महामारी फिर से फैल सकती है.

उल्लेखनीय है कि मनपा के/ पश्चिम विभाग के वार्ड क्र.61 और 63 के मध्य स्थित पटेलवाड़ी में लगभग 1 साल से कचरा नहीं उठाया जा रहा है, जो दिन-ब-बढ़ता ही जा रहा है. 

यात्री परेशान और बच्चों के स्वास्थ्य के लिए खतरा बढ़ा

कचरों के ढेर के पास से जोगेश्वरी-विक्रोली लिंक रोड (Jogeshwari-Vikhroli Link Road) गुजरती है और उसके पड़ोस में अब्दुल्ला कुरैशी स्कूल भी है. जमा हुए कचरों के ढेर से एक ओर जहां यात्रियों को आए दिन आने-जाने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, वहीं दूसरी ओर अब्दुल्ला कुरैशी स्कूल के बच्चों के स्वास्थ्य के लिए खतरा  हो गया है. समय रहते अगर मनपा का संबंधित विभाग इस समस्या की ओर ध्यान नहीं दिया तो पटेलवाड़ी और उसके आस-पास वैश्विक महामारी कोरोना का संक्रमण फिर से बढ़ सकता है.

शिकायत के बाद भी ध्यान नहीं

पटेलवाड़ी में लगभग एक साल से ज्यादा हो गए, लेकिन कचरा उठाने वाली बीएमसी की गाड़ी नहीं आ रही है, जिससे यहां बड़ी मात्रा में कचरा जमा गया है. कोरोनाकाल में इस गंदगी के चलते पटेलवाड़ी और उसके आजू-बाजू कई कोरोना के पेशेंट भी मिल चुके हैं. कचरों को उठाने के लिए हमने मनपा के संबंधित विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को कई बार लिखित और मौखिक रूप से शिकायत की. लेकिन यह समस्या आज भी ज्यों की त्यों बनी हुई है, जिस पर ध्यान देने की आवश्यकता है. -नौशाद खान, समाजसेवी और स्थानीय निवासी

 एक्शन लूंगी

पटेलवाड़ी में 1 साल से कचरा उठाने की गाड़ी नहीं जा रही है, जो चिंता का विषय है और इसकी जानकारी मुझे नहीं है.कोरोना काल में हम लोग साफ-सफाई और पर्यावरण पर विशेष ध्यान दे रहे हैं. प्राभाग समिति की मीटिंग में संबंधित अधिकारियों और कर्मचारियों से इस मुद्दे पर जरूर चर्चा करूंगी. अधिकारी और कर्मचारी अपने फर्ज से भाग नहीं सकते. पटेलवाड़ी के लोग मुझे वाट्सअप के जरिए जमा हुए कचरों के ढेर का फोटो खींचकर भेज सकते. मैं खुद चलकर मौका देखूंगी और एक्शन लूंगी. – सुधा सिंह, चेयरमैन, मनपा के/ पश्चिम विभाग