अब मेट्रो-5 जाएगी उल्हासनगर तक

  • डीएमआरसी ने टोपोग्राफिकल सर्वेक्षण के लिए जारी किया निविदा

मुंबई. मुंबई एमएमआर रीजन में मेट्रो  विस्तार का कार्य प्रगति पर है. ऑरेंज मार्ग के तौर पर पहचानी जाने वाली मेट्रो-5 का विस्तार अब उल्हासनगर तक किए जाने का लगभग तय हो गया है. कल्याण के दुर्गाड़ी चौक से उल्हासनगर तक मेट्रो रुट का टोपोग्राफिकल सर्वेक्षण के लिए  दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने निविदा जारी किया है. डीएमआरसी मेट्रो 5 की कॉन्ट्रैक्टर है.  

मेट्रो-5 मार्ग पर भिंवडी से टेमघर राजीव चौक तक सर्वेक्षण किया जाएगा. पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने युति सरकार के कार्यकाल में चुनाव प्रचार के समय मेट्रो-5 का विस्तार उल्हासनगर तक करने का वादा किया था, लेकिन सरकार जाने के बाद यह घोषणा पूरी नहीं हो सकी थी.  

सलाहकार की नियुक्ति करने की तैयारी 

मुंबई महानगर प्रदेश विकास प्राधिकरण  (एमएमआरडीए) वर्तमान में मेट्रो-5 का विस्तार कल्याण एपीएमसी से नवी मुंबई के तलोजा तक करने में लगी है. कुल 20.7 किमी लंबे इस  मार्ग के लिए सलाहकार की नियुक्ति करने की तैयारी चल रही है. 29 सितंबर तक निविदा प्रस्तुत करने के लिए समय दिया गया है. यह नई योजना के अस्तित्व में आने से भविष्य में ऑरेंज लाइन दुर्गाडी चौक से विभाजित होकर एक शाखा दक्षिण-पश्चिम से कल्याण एपीएमसी और आगे तलोजा में मेट्रो लाइन-12 से जुड़ेगी और दूसरी शाखा का विस्तार उल्हासनगर तक होगा. 

निविदा भरने की अंतिम तिथि 28  सितंबर 

 निविदा में कहा गया है कि राजीव गांधी चौक से टेमघर और दुर्गाडी चौक से उल्हासनगर तक मुंबई मेट्रो लाईन-5 का  विस्तारीकरण करने के लिए डीपीआर बनाने तथा टोपोग्राफिकल सर्वेक्षण का काम 70 दिन में पूरा करना है. निविदा भरने की अंतिम तिथि 28 सितंबर है. 29 सितंबर दोपहर 3:30 बजे निविदा खोली जाएगी. इस कार्य में मुख्य तौर पर  राजीव गांधी चौक से टेमघर और दुर्गाडी चौक से उल्हासनगर तक विस्तारित मुंबई मेट्रो लाईन -5 का डीपीआर बनाने के टोपोग्राफिकल सर्वे  का समावेश है. इसकी लंबाई  15 किमी (अनुमानित) है.

इस संदर्भ में एमएमआरडीए के प्रवक्ता बी जी पवार का कहना है कि हम भिवंडी और कल्याण के बीच दूसरे मार्ग की तलाश कर रहे हैं. डीएमआरसी की निविदा के बारें में हमें कोई जानकारी नहीं है.