अंध विश्वास में वृद्ध की हत्या, 2 भाई समेत 6 गिरफ्तार

  • 70 हजार में वृद्ध की हत्या की सुपारी

मुंबई. मुलुंड में अंध विश्वास में एक वृद्ध की हत्या किए जाने का सनसनी खेज मामला सामने आया है. पुलिस ने इस मामले में 2 भाइयों समेत 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. उनसे पूछताछ में खुलासा हुआ कि 2 भाइयों ने 4 आरोपियों को वृद्ध की हत्या करने के लिए 70 हजार रुपए की सुपारी दी थी.

मुलुंड (प.) के बालाजी रोड स्थित हंस विला के पास सिल्वर ग्लास के सामने 2 अक्टूबर को 70 वर्षीय मारूति लक्ष्मण गवली खून से लथपथ पड़े हुए थे. उनके पेट और सिर पर गहरे जख्म थे. मुलुंड पुलिस को इसकी सूचना मिली. पुलिस मौके पर पहुंची और गवली को पास के अस्पताल में ले गयी, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. मुलुंड पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया. गवली की किसी से दुश्मनी नहीं थी. वह हर रोज घर से कुछ दूरी पर हंसा विला इमारत के पास रात को सोते थे. परिमंडल-7 के पुलिस उपायुक्त प्रशांत कदम के मार्गदर्शन में मुलुंड पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक रमेश ढसाल, पुलिस निरीक्षक वारके, सहायक पुलिस निरीक्षक सचिन कदम और संतोष कांबले की टीम ने मामले की जांच शुरू की.

दो भाईयों कबूला हत्या का जुर्म

पुलिस ने घटना स्थल के आस-पास के सीसीटीवी को खंगाला और लोगों से पूछताछ की. पुलिस को जांच के दौरान गवली के पड़ोस में रहने वाले दो भाइयों दीपक मोरे (38) और विनोद मोरे (30) की स्थिति संदिग्ध लगी. पुलिस ने उनसे कड़ाई से पूछताछ की, तो हत्या का राज उजागर हुआ. दोनों भाइयों ने गवली की हत्या की सुपारी 4 लोगों को देने का गुनाह कबूल किया. दोनों ने गवली की हत्या करवाने की वजह बतायी, तो पुलिस के होश ही उड़ गए.

पिता की आत्मा की शांति के लिए हत्या

आधुनिकता के दौर में भी मुंबई में रहने वाले लोगों में अंधविश्वास व्याप्त है. दोनों भाइयों ने बताया कि उनमें इस बात की अंधविश्वास घर कर गई थी कि उनके पिता की मृत्यु में घर समाज का कोई भी व्यक्ति नहीं आया. उन्होंने अपने पिता का अंतिम संस्कार भी सही से नहीं किया, जिससे उनकी आत्मा भटक रही है. यदि अपने ही समाज के किसी व्यक्ति की हत्या कर दी जाए, तो उनके पिता की आत्मा को शांति मिलेगी.

4 लोगों को दी हत्या की सुपारी

इस अंधविश्वास में उसने पड़ोस में रहने वाले गवली की हत्या की सुपारी घाटकोपर (पूर्व) रमाबाई नगर में रहने वाले आसिफ शेख (28), गोवंडी के बैगनवाड़ी में रहने वाले मोइनूद्दीन अंसारी उर्फ साहिल (27), आरिफ अब्दुल सत्तार खान (30) और शहनवाज उर्फ सोनु अख्तर शेख (30) को दे दी.