टैक्स में छूट के लिए कमिश्नर को करें आदेशित

  • नगरविकास मंत्री से भाजपा का आग्रह 

भायंदर. मीरा-भायंदर मनपा की आमसभा में मंजूर हाउस टैक्स में 50 फीसदी, ओपन लैंड टैक्स और बकाया ब्याज पर 100 फीसदी छूट देने के निर्णय को लागू कराने के लिए सत्तापक्ष भाजपा मंत्रालय तक दौड़ लगा रही है. पूर्व विधायक नरेंद्र मेहता के बाद मंगलवार को पार्टी के गुट नेता प्रशांत दलवी, उपमहापौर हसमुख गहलोत, नगरसेवक ध्रुव किशोर पाटिल ने जिले के पालकमंत्री और नगरविकास मंत्री एकनाथ शिंदे से मुलाकात की.मंत्री से आग्रह किए कि वे मनपा कमिश्नर को निर्णय लागू करने का आदेश जारी करें.

गौरतलब है कि टैक्स में छूट का निर्णय निरस्त करने के लिए मनपा कमिश्नर डॉ. विजय राठौड़ ने सरकार के पास भेजा है.इस निर्णय को लागू करने से मनपा का काफी नुकसान होने का कारण कमिश्नर ने आगे किया है.

51 करोड़ रुपए ब्याज का बकाया 

गुट नेता दलवी ने कहा कि हाउस टैक्स से 60 करोड़ रुपए आय अपेक्षित है.51 करोड़ रुपए ब्याज का बकाया है. टैक्स की औसत वसूली 50/60 फीसदी होती है. इस हिसाब से मनपा को तिजोरी पर 20-25  करोड़ रुपये का भार पड़ेगा.इतना नुकसान उठाने में मनपा सझम है.इसकी भरपाई निधि व खर्च में कटौती कर की जा सकती है.दलवी ने कहा कि इस आधार पर हमने टैक्स में छूट का निर्णय निरस्त न कर,उसे लागू करने के लिए मनपा कमिश्नर को आदेश देने की मांग मंत्री शिंदे से की.

सरकार के पाले में गेंद फेंक जनता को बना रहे उल्लू 

अगर भाजपा को सच में करदाताओं को हाउस टैक्स में छूट देनी थी तो उसे मनपा कमिश्नर को विश्वास में लेकर निर्णय लेना चाहिए था,क्योंकि छूट देने या न देने का अधिकार उनके पास है.छूट का निर्णय लागू कराने की मांग सरकार से कर भाजपा ने गेंद सरकार के पाले में डाल दिया है.अगर सरकार एक मनपा में टैक्स में छूट देगी,तो उसे राज्य की सभी पालिकाओं में देनी पड़ेगी.शायद ऐसा संभव नहींं है.भाजपा सरकार के पाले में गेंद डालकर जनता को उल्लू बनाने का काम कर रही है.– प्रताप सरनाईक,शिवसेना विधायक