मुंबई में चीन के खिलाफ आक्रोश, कई जगह प्रदर्शन

– चीनी वस्तुओं के बहिष्कार की अपील

– मुंहतोड़ जवाब देने की मांग

मुंबई. लद्दाख के गलवान घाटी में सीमा पर चीनी सेना की तरफ से भारतीय सैनिकों पर हुए हमले को लेकर मुंबई के लोगों में चीन के खिलाफ आक्रोश व्याप्त है.कोरोना संकट के बावजूद मुंबई के उपनगरों में कई स्थानों पर विरोध प्रदर्शन किया गया. युवाओं ने कहा है कि चीन के सामान का बहिष्कार कर  हमें हमारी देशभक्ति का परिचय देना है.

 युवा कांग्रेस ने लद्दाख में चीन की तरफ से अवैध अतिक्रमण,20 जवानों की नृशंस हत्या के लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया है. सरकार के विरोध में मुलुंड पांच रास्ता पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने डॉ सचिन सिंह  के नेतृत्व में प्रदर्शन किया. विजय ठक्कर, रोहित यादव, राकेश मिश्रा ,रवि बरनवाल सहित अन्य कार्यकर्ता चीन में बने सामानों का बॉयकॉट, चीन को सबक सिखाओ,20 जवानों की हत्या पर केंद्र सरकार जवाब दे,मोदी-राजनाथ होश में आओ,चीन को सबक सिखाओ,इत्यादि नारे लगा रहे थे.

दहिसर में भी प्रदर्शन

 दहिसर में भी चीन के खिलाफ प्रदर्शन किया गया.कांग्रेस के युवा नेता अभय राजेंद्र प्रसाद चौबे ने कहा कि चीन के सामान का बहिष्कार कर हमें हमारी देशभक्ति का परिचय देना है. उन्होंने कहा कि हम लोग चाइनीज सामान खरीद कर अप्रत्यक्ष तरीके से चीन को लाभ पहुंचा रहे हैं और वह उसी पैसे का दुरुपयोग हमारे देश के खिलाफ ही कर रहा है. इसलिए अब हमें चाइनीज सामान का बहिष्कार करना ही होगा.

गोवंडी में चीन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन 

 गोवंडी में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सामाजिक कार्यकर्ता वजीर कादरी के नेतृत्व में चीन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया गया. वजीर कादरी ने कहा कि चीन से मुकाबले के लिए आर्थिक रूप से भी तैयारियां करनी होगी. चीनी कंपनियों ने हमारे इलेक्ट्रॉनिक्स और मोबाइल के बाजार पर बड़ी बढ़त हासिल कर ली है इसे तोड़ना ही होगा.

मुंहतोड़ जवाब दिया जाना जरुरी

 समाजवादी पार्टी ने भी लद्दाख में भारतीय सैनिकों की शहादत का बदला लेने की मांग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से की है. चांदिवली में विरोध प्रदर्शन के दौरान मुंबई सपा सचिव एवं पूर्व नगरसेवक इसहाक शेख ने कहा कि चीन को मुंहतोड़ जवाब दिया जाना जरुरी है.विरोध प्रदर्शन में शेख के अलावा पार्टी के उत्तर मध्य मुंबई जिला अध्यक्ष चन्द्र प्रकाश मिश्र, सोएब चौधरी,उस्मान शेख, शब्बीर तंबोली सहित अन्य लोग मौजूद थे.