आरे की जमीन के व्यावसायिक उपयोग का निर्णय पृथ्वीराज चव्हाण ने लिया था

  • शेलार का कांग्रेस पर पलटवार
  • कहा- सचिन सावंत ने सच्चाई को किया उजागर

मुंबई. मेट्रो कारशेड को लेकर शुरु आरोप-प्रत्यारोप के बीच भाजपा नेता और पूर्व मंत्री आशीष शेलार ने कांग्रेस पर पलटवार किया है. शेलार ने कहा है कि आरे की जमीन के व्यावसायिक उपयोग का निर्णय आघाड़ी सरकार के समय मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने लिया था, लेकिन फडणवीस सरकार ने अंतिम अधिसूचना प्रकाशित करते समय आरे की जमीन के व्यावसायिक उपयोग के निर्णय को रद्द कर दिया था.

आरे की जमीन की मलाई खाने के कांग्रेस के षडयंत्र को भाजपा ने फेल किया. कांग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत  ने सही समय पर अतिउत्साह में सच्चाई को उजागर किया है.  

 

… तो और भी सच्चाई बाहर आएगी

शेलार ने कहा कि सावंत ने आरे जमीन के व्यवसायिक उपयोग का खुलासा कर  राज्य के वर्तमान मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे को भी संदेह के घेरे में डाल दिया है. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा था कि कारशेड स्थलांतरित कर आरे की जमीन का उपयोग दूसरे कामों के लिए किया जाएगा. मुख्यमंत्री और पर्यावरण मंत्री सत्ता में सहयोगी इस जमीन की मलाई खाने में कांग्रेस को सहयोग करेंगे क्या? इसका उत्तर मुंबई के लोगों को देना होगा. उन्होंने कहा कि सचिन सावंत यदि इसी तरह बोलते रहेंगे तो और भी सच्चाई बाहर आएगी. इसके लिए शेलार ने सावंत को शुभकामना भी दी है. शेलार ने पृथ्वीराज चव्हाण के समय लिए निर्णयों का कागज़ पत्र भी जारी किया है.