Jayant Patil

    मुंबई. देश में बढ़ती महंगाई (Inflation) और ईंधन की कीमतों (Fuel Prices) को लेकर एनसीपी प्रदेश अध्यक्ष व महाराष्ट्र विकास आघाड़ी सरकार के कैबिनेट मंत्री जयंत पाटिल (Cabinet Minister Jayant Patil) ने केंद्र सरकार (Central Government) पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि महंगाई, ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी और माइनस में जीडीपी केंद्र द्वारा दिया गया रिटर्न गिफ्ट है। पाटिल ने मोदी सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि यह लोगों द्वारा दो बार चुने जाने के बाद केंद्र सरकार द्वारा दिया गया रिटर्न गिफ्ट है।

    पाटिल ने कहा कि राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, पिछले 40 वर्षों में भारतीय अर्थव्यवस्था का यह अब तक का सबसे निराशाजनक प्रदर्शन किया है। कोरोना संकट की चपेट में आए भारत ने वित्त वर्ष 2020-21 में माइनस (-) 7.3 फीसदी की विकास दर (जीडीपी) दर्ज की है। 40 साल पहले, 1979 -80 में आर्थिक विकास दर गिरकर माइनस 5.2 प्रतिशत के घाटे में आ गई थी। उन्होंने कहा कि उसके बाद पहली बार विकास दर माइनस 7.3 फीसदी पर आ गई है।

    कोरोना से निपटने की योजना नहीं

    पाटिल ने कहा कि कोरोना को काबू में करने के लिए मोदी सरकार की कोई योजना नहीं है। उन्होंने कहा कि पेट्रोल-डीजल के दाम पहुंच से बाहर होते जा रहे हैं। देश की जीडीपी माइनस में है। पाटिल ने कहा कि यह सभी आंकड़ें साबित करते हैं कि मोदी सरकार के शासनकाल में देश बुरी तरह से पिछड़ गया है।