नेस्को में अस्पताल बनाने के नाम पर घोटाला

– बीजेपी ने लगाया लूट का आरोप

मुंबई. गोरेगांव के नेस्को में बनाए गए कोविड अस्पताल में मरीजों को सुविधा उपलब्ध कराने के नाम पर लूट मचाने का आरोप बीजेपी नेता विनोद मिश्र ने लगाया है. बीएमसी में भाजपा पार्टी नेता ने मनपा मुख्यालय में पत्रकार सम्मेलन कर मनपा पर आरोप लगाया कि अस्पताल में मरीजों के लिए  पंखे बेड आदि किराये पर लिए गए सामान में अधिक कीमत पर  ठेका दिया गया है.

 कोरोना महामारी फैलने के बाद मनपा प्रशासन मरीजों को इलाज की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए जगह-जगह अस्थाई अस्पताल बनाने का निर्णय लिया था. विनोद मिश्र, पार्टी नेता प्रभाकर शिंदे और मुलुंड के विधायक मिहिर कोटेचा ने मनपा मुख्यालय में भाजपा कार्यालय में पत्रकार सम्मेलन आयोजित कर मनपा प्रशासन पर घोटाला करने का गंभीर आरोप लगाया. 

बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार किए जाने का आरोप 

मिश्रा ने कहा कि  गोरेगांव स्थित नेस्को में बनाये गए अस्थाई अस्पताल में 2 हजार बेड होने का दावा किया गया था, लेकिन अभी तक मात्र 1100 से 1150 खाट ही उपलब्ध है. उन्होंने कहा कि वहां जितनी सुविधा उपलब्ध कराई गई है उससे एक चौथाई कम कीमत में सामानों को खरीदा जा सकता था. पंखे का किराया देने पर 1 करोड़ 40 लाख और बेड किराये पर लेने में 1 करोड़ 50 लाख रुपया अधिक खर्च करने का आरोप लगाया. इसी तरह मरीजों के लिए ऑक्सीजन को उपलब्ध कराने में भी बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार किए जाने का आरोप लगाया.भाजपा नेताओं ने इस  लूट में मनपा आधिकरियों और शिवसेना नेताओं के शामिल होने का भी आरोप लगाया. 

आधिकरियों की लापरवाही से लोगों की जान जा रही 

बीजेपी गुट नेता प्रभाकर शिंदे ने कहा कि मनपा में कोरोना महामारी के बीच मरीजों का जहां बुरा हाल हो रहा है वहीं आधिकरियों की लापरवाही से लोगों की जान जा रही है. इस महामारी में भी  मनपा आधिकरियों और शिवसेना नेताओं को मलाई दिख रही है. इससे पहले अस्पतालों का दौरा कर बीजेपी नेता किरीट सोमैया ने कहा कि सभी अस्थायी अस्पतालों में बड़ी संख्या में बेड खाली हैं. अस्पतालों में बेड खाली होने के बाद भी मरीजों को बेड के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है.