महाराष्ट्र में कोरोना की दूसरी लहर !, सीएम ठाकरे ने चेताया

  • नाशिक और मराठवाड़ा के अधिकारियों से बातचीत  

मुंबई. महाराष्ट्र और मुंबई में कोरोना मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. ऐसे में यदि बाहर निकलने वाले लोगों ने सावधानी नहीं बरती तो राज्य में कोरोना की दूसरी लहर आ सकती है. यह आशंका मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने व्यक्त की है. उन्होंने यह बात नाशिक व मराठवाड़ा के मंत्रियों व अधिकारियों के साथ आयोजित वर्चुअल मीटिंग में कही. ठाकरे ने कहा कि कोरोना को कंट्रोल करने के लिए सरकार हरसंभव प्रयास कर रही है, लेकिन अभी तक इस पर पूरी तरह से काबू पाया नहीं जा सका है. उन्होंने कहा कि राज्य में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हो गई है. इस वजह से काफी संख्या में लोग घरों से बाहर निकल रहे हैं. कई लोग नियमों का पालन न करते हुए  अनावश्यक भीड़ कर रहे हैं. इस वजह से संक्रमण का खतरा तेजी से बढ़ रहा है. 

काम हो तो निकलें बाहर 

सीएम ठाकरे ने लोगों से अपील की है कि वे आवश्यक काम होने पर ही घरों से बाहर निकलें. उन्होंने अधिकारियों से भी लॉकडाउन के नियमों का कड़ाई से पालन करवाने के निर्देश दिए हैं. 

बिना लक्षण वाले मरीजों से खतरा 

सीएम ठाकरे ने बिना लक्षण के कोरोना मरीजों को घरों में रहने की सलाह दी है, लेकिन कई ऐसे मरीज  बाहर घूम रहे हैं. इस वजह से दूसरे लोगों में भी  संक्रमण का प्रसार हो रहा है. इससे कड़ाई से निपटने की जरुरत है. 

‘मेरा परिवार मेरी जिम्मेदारी’ बना रोल मॉडल 

ठाकरे ने कहा कि कोरोना महामारी से लड़ने के लिए सरकार के ‘मेरा परिवार, मेरी जिम्मेदारी’ योजना महाराष्ट्र में ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया में एक रोल मॉडल के रूप में उभर कर सामने आया है. उन्होंने कहा कि ग्रामीण इलाकों में कोरोना के प्रति जागृति फैलाने के लिए लोक कलाकारों की मदद ली जाएगी.