मीठी नदी के पात्र झोपड़ाधारकों को जल्द मिले शिफ्टिंग

  • सीएम ठाकरे का अधिकारियों को निर्देश

मुंबई. मीठी नदी से प्रभावित पात्र झोपड़ाधारकों की शिफ्टिंग के काम को जल्द पूरा किया जाना चाहिए. इस बाबत मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इस बारे में एक अहम मीटिंग करने के बाद अधिकारियों को निर्देश दिए हैं. उन्होंने ख़ास कर क्रांति और संदेश नगर के झोपड़ाधारकों को प्राथमिकता देने के निर्देश दिए हैं. 

एयरपोर्ट ऑथोरिटी के पास के झोपड़ाधारकों को शिफ्ट करने को लेकर सीएम के आधिकारिक निवास वर्षा पर एक मीटिंग का आयोजन किया गया जिसमें नगर विकास मंत्री एकनाथ शिंदे, पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे, सांसद विनायक राउत और विधायक दिलीप लांडे समेत प्रमुख अधिकारी मौजूद थे. 

अन्य स्थान पर घर बनाए जाने चाहिए

मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा कि जिन झोपड़ाधारकों को साल 1995 के कानून के तहत अपात्र घोषित किया गया है, उन्हें साल 2011 के कानून के तहत पात्र घोषित करने के लिए आवश्यक कदम उठाए जाने चाहिए. निर्माण स्थल कुर्ला में 17,200 घर खुली जगह पर है. इनमें से कुछ घरों की हालत बेहद ख़राब  है. वहीँ कुछ घर मीठी नदी बेसिन में हैं. सीएम ठाकरे ने कहा कि ऐसे लोगों स्थानांतरित  करने के लिए अन्य स्थान पर घर बनाए जाने चाहिए.