Shivdi-Worli connector work soon, MMRDA commissioner reviews

    मुंबई. एमएमआरडीए आयुक्त का पदभार ग्रहण करते ही एसवीआर श्रीनिवास सक्रिय मोड पर आ गए हैं। मुंबई (Mumbai) में शुरू एमएमआरडीए (MMRDA)की विभिन्न परियोजनाओं को लेकर आयुक्त ने नियमित समीक्षा बैठक कर उन्हें फ़ास्ट ट्रैक (Fast Track) पर लाने का निर्देश दिया है। एमएमआरडीए द्वारा प्रस्तावित बहुउद्देश्यीय शिवडी-वर्ली कनेक्टर को लेकर आयुक्त एसवीआर श्रीनिवास ने समीक्षा बैठक की। इस योजना का सिविल कार्य जल्द ही शुरू होने की उम्मीद है, परियोजना कार्य में आने वाली किसी भी बाधा को समझ कर उसे दूर करने के लिए एक बैठक आयोजित की गई थी।

    एमएमआरडीए के अनुसार, काम शुरू होने के बाद वर्ली और उसके आसपास की बाधाओं और यातायात की समस्या से बचने के लिए किए जाने वाले उपायों जैसे प्रमुख मुद्दों पर चर्चा हुई है।

    पीएपी के तहत पुनर्वास

    प्रोजेक्ट अफेक्टेड पिपल अथार्त पीएपी योजना के तहत स्लम पुनर्वास योजना (एसआरए) में  परियोजना प्रभावित लोगों का पुनर्वास होगा। इसके तहत नाले के डायवर्जन, यूटिलिटी लाइन, मोनोरेल स्टेशन क्रॉसिंग आदि तकनीकी मामलों पर विस्तार से चर्चा की गई। उल्लेखनीय है कि शिवडी-वर्ली कनेक्टर एमएमआरडीए प्रमुख की प्राथमिकता वाली परियोजनाओं में से एक है। इसे सीधे मुंबई ट्रांस हार्बर लिंक से जोड़ा जाएगा। प्रस्तावित परियोजना कर एमटीएचएल से जुड़ने के बाद पश्चिम व दक्षिण मुंबई के वाहन चालकों को फायदा होगा और यातायात की समस्या कम हो जाएगी। गौरतलब है कि कैबिनेट मंत्री और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे भी परियोजना के काम में विशेष रुचि ले रहे हैं।