एसआरए के लाभार्थियों को तुरंत मिले किराया

  • सायन कोलीवाड़ा में भाजपा का आंदोलन

मुंबई. मुंबई की पुरानी चालों और झोपड़पट्टियों के पुनर्विकास का काम ठप पड़ा है. एसआरए परियोजनाओं को अधर में छोड़ने वाले बिल्डर कोरोना संकट के समय झोपड़ावासियों को किराया नहीं दे रहे हैं. जिसको लेकर मुंबई बीजेपी अध्यक्ष मंगल प्रभात लोढ़ा के नेतृत्व में ‘ मुख्यमंत्री किराया जमा करे आंदोलन शुरू किया गया है. 3 से 10 अक्टूबर तक चलने वाले आंदोलन के तहत मंगलवार को सायन कोलीवाड़ा में स्थानीय विधायक कैप्टन तमिल सेल्वन के नेतृत्व में विरोध प्रदर्शन और हस्ताक्षर अभियान चलाया गया.

सायन कोलीवाड़ा के मक्कावाड़ी स्थित शुक्ला होटल के सामने लोगों को संबोधित करते हुए कैप्टन तमिल सेल्वन ने कहा कि विधानसभा क्षेत्र में कई परियोजनाएं शुरू हैं. झोपड़ों को तोड़ दिया गया है, लेकिन झोपड़ाधारकों को बिल्डर किराया नहीं दे रहे हैं. किराया जमा करने को लेकर सभी के हस्ताक्षर लिए गए.आंदोलन में नगरसेविका कृष्णा रेड्डी, पार्टी के मंडल अध्यक्ष संतोष गुप्ता, लालसाहेब सिंह, लोरिक यादव, अमित गुप्ता, दत्ता केलूसकर, सुधाकर नाडार, संतोष पांडेय सहित अन्य लोग शामिल थे.